पीएनबी बैंक ने कहा-नेशनल असेट रि-कंस्ट्रक्शन कंपनी लिमिटेड यानी बैड बैंक में हिस्सेदारी खरीदेगा

7

पंजाब नेशनल बैंक ने कहा कि वह नेशनल असेट रि-कंस्ट्रक्शन कंपनी लिमिटेड यानी बैड बैंक में हिस्सेदारी खरीदेगा। पीएनबी ने प्रस्तावित बैड बैंक को ट्रांसफर करने के लिए 8 हजार करोड़ रुपए के नॉन-परफॉर्मिंग असेट्स (एनपीए) की पहचान की है। बैंकों के फंसे हुए कर्ज या बुरी संपत्ति को टेकओवर करने और उनका समाधान करने वाले वित्तीय संस्थान को बैड बैंक कहा जाता है।

पीएनबी के एमडी एसएस मल्लिकार्जुना राव ने कहा कि एनएआरसीएल का गठन सभी बैंकों की ओर से किया जाएगा। सभी बैंक रिकवरी के लिए अपने एनपीए एडवांस एनएआरसीएल को ट्रांसफर करेंगे। एनएआरसीएल में सरकारी बैंकों की 51त्न हिस्सेदारी होगी।

सरकारी बैंकों में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के बाद हम दूसरे सबसे बड़े बैंक हैं। उन्होंने बताया कि एनएआरसीएल में सभी बैंकों का योगदान होगा। लेकिन सभी की हिस्सेदारी 10 प्रतिशत से कम होगी। राव का कहना है कि एनएआरसीएल अगले महीने से शुरू हो सकता है। उन्होंने कहा कि सभी तैयारियां 30 जून तक पूरी होने की उम्मीद है। 1 जुलाई से एनएआरसीएल काम करना शुरू कर देगा।

यह भी पढ़ें-बिट्कॉइन: उतार चढ़ाव का दौर जारी, एलन मस्क के ट्वीट से गिरे भाव