ऋषभ पंत की हालत स्थिर

49
ऋषभ पंत
ऋषभ पंत

डीडीसीए की अपील-फैंस और साथी खिलाड़ी उनसे मिलने न जाएं

टीम इंडिया के स्टार विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत कार हादसे के बाद देहरादून के मैक्स अस्पताल में भर्ती हैं। पंत अपनी मां से मिलने घर जा रहे थे, जब उनकी कार डिवाइडर से टकरा गई। इस हादसे में पंत की कार जलकर खाक हो गई, लेकिन उन्हें ज्यादा चोट नहीं आई है। पंत के माथे पर टांके लगे हैं और उनके पैर में फ्रैक्चर है। उनका इलाज जारी है। इस बीच डीडीसीए ने सभी से अपील की है कि पंत से मिलने के लिए अस्पताल न जाएं। दिल्ली जिला क्रिकेट संघ के निदेशक श्याम शर्मा ने प्रशंसकों के साथ-साथ वीआईपी लोगों से अनुरोध किया कि वे इस समय विकेटकीपर-बल्लेबाज से मिलने से बचें।

ऋषभ पंत
ऋषभ पंत

डीडीसीए के निदेशक श्याम शर्मा ने कहा, जो लोग पंत से मिलने जा रहे हैं, उन्हें इससे बचना चाहिए, क्योंकि संक्रमण की संभावना है। पंत से मिलने के लिए कोई वीआईपी मूवमेंट नहीं होना चाहिए और उनसे मिलने आने वाले लोगों को इससे बचना चाहिए, क्योंकि पंत के लिए संक्रमण की संभावना है। वह स्थिर है और अच्छी तरह से ठीक हो रहे हैं। हमारे बीसीसीआई के डॉक्टर यहां के डॉक्टरों के संपर्क में हैं। जय शाह इसकी निगरानी कर रहे हैं। अभी वह यहां भर्ती रहेंगे। उन्होंने मुझे बताया कि उन्होंने (अपनी कार) को एक गड्ढे से बचाने की कोशिश की (इसी वजह से दुर्घटना हुई)।

दाहिने घुटने में लिगामेंट फट गया

एसके सिंह, पुलिस अधीक्षक, हरिद्वार (ग्रामीण) ने कहा वह अपने रिश्तेदारों से मिलने रुड़की जा रहे थे। हादसा इसलिए हुआ, क्योंकि वह नारसन से एक किलोमीटर आगे रुड़की की तरफ गाड़ी चलाते हुए सो गए थे। बीसीसीआई के बयान में दुर्घटना के बाद पंत को लगी चोटों के बारे में विस्तार से बताया गया था। ऋषभ के माथे पर दो कट लगे हैं, उनके दाहिने घुटने में लिगामेंट फट गया है और उनकी दाहिनी कलाई, टखने, पैर के अंगूठे में भी चोट लगी है और उनकी पीठ पर खरोंच आई है। ऋषभ की हालत स्थिर बनी हुई है। वह अब मैक्स अस्पताल, देहरादून में हैं, जहां वह उनकी चोटों की गंभीरता का पता लगाने के लिए एमआरआई स्कैन हो रहे हैं। इन स्कैन की रिपोर्ट आने के बाद उनका आगे का इलाज किया जाएगा।

यह भी पढ़ें : मेथी दाने और नारियल के तेल से बालों को बनाएं काला और घना