हाईकोर्ट की जोधपुर मुख्य पीठ में कोरोना पॉजिटिव से हड़कंप

8

जोधपुर। राजस्थान हाईकोर्ट की जोधपुर स्थित मुख्य पीठ में गुरुवार को एक न्यायाधीश के निजी सचिव के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद हड़कंप मच गया। आनन-फानन में हाईकोर्ट का कार्य स्थगित कर दिया गया। सभी वकील को कोर्ट परिसर से बाहर जाने का कह मुख्य द्वार बंद कर दिया गया।
हाईकोर्ट के रजिस्ट्रार जनरल ने बताया कि आज एक कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। बड़ी संख्या में अन्य कर्मचारी उसके संपर्क में आए थे। ऐसे में मुख्य न्यायाधीश ने आज एक दिन के लिए कार्य स्थगित करने का आदेश दिया। अब पूरे हाईकोर्ट परिसर को सैनेटाइज कराया जाएगा। इसके साथ ही हाईकोर्ट के सभी कर्मचारियों व अधिकारियों के सैंपल लिए जाएंगे।

भारी पढ़ा शादियों में जाना

अनलॉक के बाद मिली छूट का गलत फायदा उठाना भारी पढ़ रहा है। लोगों के बेरोकटोक शादी-बारातों में शामिल होने से संक्रमण फैल रहा है। जिले में 2 दिन में 37 ऐसे संक्रमित मिले हैं, जो शादी समारोह में शामिल हुए।
इनमें जोधपुर के 27 और बिलाड़ा के 10 लोग शामिल हैं। हाल ही में भदवासिया में हुई एक शादी में शामिल 17 लोग मंगलवार और 10 जने बुधवार को संक्रमित पाए गए। इनमें से अधिकतर मदेरणा कॉलोनी व आसपास के इलाकों वहीं बिलाड़ा के लोग भी ब्यावर में हुई एक शादी में शामिल हुए। इनमें से 6 मंगलवार व 4 बुधवार को पॉजिटिव मिले।

यह भी पढ़ें-जयपुर में आज 25 नए कोरोना पॉजिटिव केस

दो बैंक शाखाओं के 6 अफसर पॉजिटिव

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के प्रशासनिक कार्यालय में सोमवार को कार्यभार ग्रहण करने वाले एक प्रबंधक, हाईकोर्ट ब्रांच के दो और एनआरआई ब्रांच के तीन सहित कुल छह अफसरों के इन दिनों कोविड-19 पॉजिटिव आ चुके हैं। इसके चलते जहां प्रशासनिक कार्यालय मंगलवार व बुधवार को बंद रहा, तो हाईकोर्ट ब्रांच को भी कुछ समय के लिए बंद रखा गया।
इसी तरह, एनआरआई ब्रांच में पहले एक अधिकारी व बाद में दो अधिकारी पॉजिटिव आए, तो इस ब्रांच के कामकाज को नजदीकी शाखा में शिफ्ट करना पड़ा। एसबीआई के डीजीएम सुजीत कुमार ने बताया कि सभी कर्मचारियों के लिए आवश्यक रूप से शील्ड का उपयोग करने के साथ ही सैनेटाइजर, हैंड ग्ल्वज सहित अन्य सुरक्षा इंतजाम किए जा चुके हैं। इसके बावजूद पॉजिटिव केस आना चिंता की बात है।