डब्ल्यूएचओ ने चेताया : कोरोना थमा नहीं, मारबर्ग वायरस का खतरा मंडराया

66
who
who

जेनेवा, । पूरी दुनिया अभी कोरोना वायरस के प्रकोप से जूझ ही रही थी, कि अब मारबर्ग वायरस का खतरा मंडराने लगा है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इस बाबत चेतावनी जारी करते हुए हालात बेकाबू होने की संभावना भी जताई है।

बीते दो वर्ष से दुनिया कोरोना वायरस के प्रकोप से पूरी तरह उबरी भी नहीं थी कि अब एक नए वायरस मारबर्ग की आहट ने लोगों के होश उड़ा दिए हैं। मारबर्ग वायरस के कारण घाना में पिछले महीने दो लोगों की मौत की पुष्टि हुई है। ये दोनों लोग मारबर्ग वायरस से संक्रमित पाए गए थे। अब प्रशासन ने दोनों के संपर्क में आने वाले लोगों को एतिहातन आइसोलेट कर दिया है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने भी मारबर्ग वायरस को लेकर चेतावनी जारी की है। डब्ल्यूएचओ ने कहा कि यदि मारबर्ग वायरस को लेकर तुरंत जागरुकता के साथ सावधानी नहीं बरती गयी तो स्थिति बिगड़ सकती है। डब्ल्यूएचओ ने साफ कहा कि मारबर्ग वायरस का प्रसार हुआ तो हालात बेकाबू हो सकते हैं। जानकारों के मुताबिक मारबर्ग वायरस के कारण मारबर्ग वायरस डिजीज (एमवीडी) का खतरा होता है और इसकी मृत्युदर 88 फीसदी से अधिक हो सकती है।