अमित शाह ने रोका अजान के लिए संबोधन, जनता से इजाजत लेकर फिर शुरू किया भाषण

37
amit shah jammu kashmir

जम्मू कश्मीर की यात्रा पर पहुंचे केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बारामूला में एक जनसभा को संबोधित किया। इस सभा में होम मिनिस्टर अपनी बातें रख ही रहे थे कि तभी अजान का टाइम हो गया था। अजान का समय हो जाने के कारण अमित शाह ने अपना भाषण रोक दिया, बाद में फिर जनसभा में मौजूद लोगों से पूछकर उन्होंने अपना भाषण पूरा किया। शाह के इस काम की जमकर तारीफ हो रही है।

संबोधन को फिर शुरू करते हुए केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने कहा, ‘ मुझे अभी संदेश मिला कि प्रार्थना हो रही है तो मैंने अपनी बात रोक दी। तो क्या अब मैं अपनी बात रखूं।’ जनता के हां कहने पर अमित शाह ने फिर से अपना भाषण शुरू किया। जनसभा के दौरान अमित शाह ने तीन परिवार यानी अब्दुल्ला, मुफ्ती और गांधी परिवार पर जमकर निशाना साधा।

1947 से 2014 तक जम्मू कश्मीर में मात्र 4 मेडिकल कॉलेज बने

अमित शाह ने कहा कि 1947 से 2014 तक सिर्फ चार मेडिकल कॉलेज बने और 2014 से 2022 तक 9 कॉलेज बनाए गए हैं। तीन परिवारों के शासन में भ्रष्टाचार का बोलबाला रहा। उन्होंने एंटी करप्शन ब्यूरो को घुसने नहीं दिया। अब जम्मू कश्मीर में तेजी से विकास हो रहा है। पहले कश्मीर में जम्हूरियत की व्याख्या थी- तीन परिवार, 87 विधायक और 6 सांसद।

मोदी जी ने जम्मू कश्मीर के गांव-गांव तक जम्हूरियत को पहुंचायाः शाह

अमित शाह ने कहा कि मोदी जी ने जम्मू-कश्मीर में गांव-गांव तक जम्हूरियत को पहुंचाने का किया है। आज जम्मू-कश्मीर में 30 हजार से ज्यादा लोग पंचायत, तहसील पंचायत का नेतृत्व कर रहे हैं। अमित शाह ने कहा कि मोदी ने 5 अगस्त के बाद जम्मू-कश्मीर में जम्हूरियत को जमीन तक, गांव तक पहुंचाने का काम किया है। आज घाटी और जम्मू-कश्मीर में 30 हजार से ज्यादा लोग पंचायत, तहसील पंचायत का नेतृत्व कर रहे हैं।