पट्टा वितरण समरोह में सभापति का वादा-दो महीने के बाद शहर की एक भी सड़क पर गड्ढ़े नहीं मिलेंगे

102

सीकर। राज्य स्तरीय कार्यक्रम खत्म होने के बाद नगर परिषद में लोगों को पट्टे वितरित किए गए। इस दौरान विधायक राजेंद्र पारीक ने कहा कि जनता की सहभागिता के बिना कोई भी अभियान सफल नहीं हो सकता। इसलिए जनता जागरूक रहकर अभियान का फायदा उठाएं। पार्षद घर-घर संपर्क करेंगे। चिरंजीवी योजना से लोगों को जोड़ें। जिले के प्रभारी सचिव दिनेशकुमार ने भी कार्यक्रम स्थल पहुंचकर लोगों को पट्टे बांटे।

कार्यक्रम में उपसभापति अशोक चौधरी, नेता प्रतिपक्ष अशोक चौधरी, एक्सईएन रविंद्र जैन, रेखा मीणा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद रहे। इधर, सभापति जीवण खां ने दावा किया कि सीकर नगर परिषद ने पहले दिन शनिवार को रिकार्ड 1485 लोगों को पट्टे दिए हैं। सीकर नगर परिषद पट्टे देने के मामले में प्रदेश में पहले नंबर पर है। प्रदेश में शनिवार को किसी भी जेडीए, नगर निगम और नगर परिषद ने लोगों को इतने पट्टे नहीं दिए हैं। सभापति जीवण खां ने कहा कि दो माह बाद शहर में ऐसी कोई सड़क नहीं होगी, जिस पर गड्ढे होंगे।

शहर की सभी सड़कों की मरम्मत कराई जाएगी। यूआईटी ने भी अभियान के तहत 136 लोगों को पट्टे बांटे। नगर परिषद भवन में हुए पट्टा वितरण समारोह में कल्याणजी के मंदिर के पास रहने वाली महिला रुक्मणी जोशी भी पहुंची। महिला ने पट्टा बनाने के लिए आवेदन कर रखा था, लेकिन पट्टा नहीं बन पाया।

जब उसे जानकारी मिली कि उसका पट्टा दस्तावेजों की कमी से नहीं बन पा रहा है तो नगर परिषद ऑफिस में पहुंची। विधायक राजेंद्र पारीक और सभापति जीवण खां से मिली। विधायक ने पट्टा नहीं बनने की वजह जानी। इस पर सामने आया की महिला के परिवार में जमीन को लेकर विवाद है। इसलिए परिवार की सहमति न मिलने पर पट्टा बनाने में दिक्कत आ रही है।

95 साल बाद मिला पट्टा

कार्यक्रम में इस्लामिया एजुकेशनल कल्चरल वेलफेयर सोसायटी को 95 साल बाद पट्टा मिला। संस्था की 1926 में स्थापना की थी। संस्था में कॉलेज, सीनियर सैकंडरी स्कूल, आईटीआई स्कूल, अंग्रेजी माध्यम स्कूल संचालित करती है। गरीब बच्चों को मुफ्त में शिक्षा दी जाती है। स्थापना के बाद ही संस्था को पट्टा नहीं मिल रहा था। नगर परिषद ने शनिवार को धारा 69-ए के तहत पट्टा सौंपा। नगर परिषद अधिकारियों ने संस्था अध्यक्ष हाजी अब्दुल गफ्फार पंवार, कोषाध्यक्ष मकसूद पठान और सदस्य अब्दुल रजाक पंवार और सलीमुद्दीन को पट्टा सौंपा।

यह भी पढ़े- लोगों ने अभियान चलाकर जगह-जगह साफ-सफाई की