फ्लिपकार्ट ने भारत सरकार के एनयूएलएम के साथ की साझेदारी

नई दिल्ली
भारत के प्रमुख ई-कॉमर्स बाज़ार, फ्लिपकार्ट ने भारत सरकार के आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय के तहत आने वाली दीनदयाल अंत्योदय योजना – राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन (डीएवाई-एनयूएलएम) के साथ साझेदारी की है। इसके ज़रिए समाज के कुशल लेकिन अभी तक वंचित वर्ग को ई-कॉमर्स की सहायता से मज़बूत बनाने की कोशिश की जाएगी। फ्लिपकार्ट और मंत्रालय के बीच आज हुए समझौते के अनुसार, फ्लिपकार्ट भारत के 22 राज्यों में डीएवाई-एनयूएलएम के तहत फ्लिपकार्ट समर्थ कार्यक्रम शुरू करने के लिए राज्य मिशनों के साथ मिलकर काम करेगा। फ्लिपकार्ट और राज्य मिशन स्वयं सहायता समूहों (एसएचजी), स्थानीय कारीगरों, बुनकरों, शिल्पकारों, कच्चे और जैविक खाद्य पदार्थ उत्पादकों के साथ मिलकर काम करेंगे और उनके प्रशिक्षण, सहायता और बाजार तक पहुंच बढ़ाने में सहयोग देंगे। कार्यक्रम के तहत विक्रेताओं को फ्लिपकार्ट से समयबद्ध इन्क्यूबेशन सपोर्ट मिलेगा जिसमें कैटलॉगिंग और खाता प्रबंधन जैसी बहुत सी चीज़ों में सहायता मिलेगी फ्लिपकार्ट और सरकार के बीच हुई यह साझेदारी सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योगों (एमएसएमई) के लिए व्यापार के अवसरों को बढ़ाएगी और उन्हें अपने व्यवसाय को आगे बढ़ाने के लिए प्रशिक्षण और सहायता प्रदान करेगी। इससे डीएवाई-एनयूएलएम के तहत छोटे व्यवसाय और स्वयं सहायता समूह ई-कॉमर्स के साथ जुड़ेंगे जिससे वे पूरे भारत के बाजार तक अपनी पहुंच बना सकेंगे। इस पहल के माध्यम से फ्लिपकार्ट का उद्देश्य विशेष रूप से शहरी क्षेत्रों में रहने वाले समाज के वंचित वर्गों की आर्थिक और वित्तीय स्थिति को बेहतर बनाना है। भारत सरकार के अंतर्गत आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय में संयुक्त सचिव एवं मिशन डायरेक्टर श्री संजय कुमार ने कहा, ‘‘फ्लिपकार्ट के साथ भागीदारी वास्तव में, ब्रांडिंग, डिजिटल मार्केटिंग तथा वित्तीय प्रबंधन जैसे क्षेत्रों में महिला उद्यमियों की क्षमता निर्माण के लिहाज से काफी महत्वपूर्ण है। साथ ही, यह राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन (डीएवाई-एनयूएलएम) के अंतर्गत स्व-सहायता समूहों द्वारा निर्मित उच्च गुणवत्ता के उत्पादों को अधिक व्यापक उपभोक्ता आधार तक पहुंचाने में भी मददगार साबित होगी। फ्लिपकार्ट ग्रुप के चीफ कॉर्पोरेट अफेयर्स ऑफिसर, रजनीश कुमार ने कहा, ‘‘ई-कॉमर्स के ज़रिए देश भर के कारीगरों और स्वयं सहायता समूहों को मज़बूत बनाने के लिए भारत सरकार के आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय के साथ साझेदारी करके फ्लिपकार्ट बहुत खुश है। इस पहल से इन विक्रेताओं को भौगोलिक और सामाजिक-आर्थिक बाधाओं से परे हटकर फ्लिटकार्ट प्लेटफार्म के पूरे भारत में फैले 200 मिलियन से ज़्यादा ग्राहकों तक पहुंचने में मदद मिलेगी। फ्लिपकार्ट पर जुडऩे वाले प्रत्येक कारीगर या एमएसएमई के साथ ई-कॉमर्स भारतीयों के लिए ज़्यादा समावेशी बनता जा रहा है। हम इस पहल के लिए हमारा सहयोग करने पर आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय के डीएवाई-एनयूएलएम मिशन को हार्दिक धन्यवाद देना चाहते हैं।