आईसीआईसीआई बैंक का चौथी तिमाही का शुद्ध लाभ 26 प्रतिशत बढक़र 1,221 करोड़ रुपए

आईसीआईसीआई बैंक, ICICI Group
आईसीआईसीआई बैंक, ICICI Group

नई दिल्ली। निजी क्षेत्र के आईसीआईसीआई बैंक का बीते वित्त वर्ष 2019-20 की चौथी तिमाही का एकल शुल्क लाभ 26 प्रतिशत बढक़र 1,221 करोड़ रुपए पर पहुंच गया।

यह भी पढ़ें-आईसीआईसीआई बैंक ने व्हाट्सएप पर बैंकिंग सेवाएं शुरू की

इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में बैंक ने 969 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ कमाया था। शेयर बाजारों को भेजी सूचना में बैंक ने कहा कि तिमाही के दौरान उसकी कुल आय बढक़र 23,443.66 करोड़ रुपए पर पहुंच गई, जो इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 20,913.82 करोड़ रुपए थी।

आईसीआईसीआई बैंक का बीते वित्त वर्ष 2019-20 की चौथी तिमाही का एकल शुल्क लाभ 26 प्रतिशत बढक़र 1,221 करोड़ रुपए पर पहुंच गया।

संपत्ति के मोर्च पर बात की जाए, तो 31 मार्च, 2020 तक बैंक की सकल गैर निष्पादित आस्तियां (एनपीए) कुल ऋण का 5.53 प्रतिशत थीं।

आईसीआईसीआई बैंक ने कहा कि तिमाही के दौरान उसकी कुल आय बढक़र 23,443.66 करोड़ रुपए पर पहुंच गई

इससे पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में बैंक का सकल एनपीए 6.70 प्रतिशत था। इसी तरह समीक्षाधीन तिमाही में बैंक का शुद्ध एनपीए 1.41 प्रतिशत पर आ गया, जो इससे पिछले वि ा वर्ष की समान तिमाही में 2.06 प्रतिशत के स्तर पर था।

एसबीआई ने लॉन्च की स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी

नई दिल्ली। कोरोना वायरस का उपचार काफी महंगा है। हालांकि कई राज्य तो अपने यहां पर इस वायरस से संक्रमित व्यक्तियों का इलाज मुफ्त में कर रहे हैं। हालांकि निजी अस्पतालों में इस बीमारी का इलाज भी काफी महंगा है। ऐसे में महामारी के इलाज के खर्चों को पूरा करने के लिए एसबीआई जनरल इंश्योरेंस कंपनी ने एक स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी को लॉन्च किया है। इस बीमा पॉलिसी के तहत लोगों को एक लाख रुपए से लेकर के पांच लाख रुपए तक का कवर मिलेगा। कंपनी ने इस पॉलिसी का नाम आरोग्य संजीवनी स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी रखा है।