नहीं खाया है तो जरूर खाएं मशरूम, फिर देखो जलवा

24
मशरूम
मशरूम

इसके गुण जानकर रह जाएंगे दंग

मशरूम शाकाहारियों का हाई प्रोटीन फूड है जिसे कई लोग खाना पसंद करते हैं। मशरूम को लोग कई प्रकार से खाते-बनाते हैं। लेकिन वेलनेस कॉच ल्यूक कॉन्टिहो की मानें तो, मशरूम हर किसी के लिए एक इम्यूनिटी बूस्टर फूड है। इसमें हाई एंटीऑक्सीडेंट हैं, कई विटामिन और खनिज हैं। साथ ही इसमें प्रोटीन, बीटा कैरोटीन और ग्लूकन जैसे सूक्ष्म पोषक तत्व होते हैं जो कई बार दूसरे फूड में नहीं मिलते है। इसलिए हड्डियों से जुड़ी बीमारियों से जूझ रहे लोगों के लिए या कहें कि असंतुलित हार्मोन से परेशान बच्चों के लिए तक मशरूम खाना फायदेमंद है। इसके अलावा डायबिटीज और हार्ट के मरीजों के लिए भी ये फायदेमंद है।

पेट के लिए फायदेमंद

मशरूम
मशरूम

मशरूम आपके पेट की सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होते हैं। ये आपके आंतों के स्वास्थ्य बेहतर बनाए रखने में मदद करते हैं और गुड बैक्टीरिया को बढ़ावा देते हैं। इसके पोषक तत्व आपके पेट के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। ये समृद्ध प्रीबायोटिक्स के रूप में कार्य करते हैं और आपकी आंत में अच्छे बैक्टीरिया को पोषण देते हैं। मशरूम के फंगस आपके आंत माइक्रोबायोम और बैक्टीरिया के साथ कैसे संवाद करते हैं और इस बढ़ाते हैं। यह आपको वजन कम करने, प्रतिरक्षा कार्य में सुधार, त्वचा और बालों के स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में मददगार है। ये कब्ज, सूजन और एसिडिटी जैसे गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल मुद्दों से राहत प्रदान करने में मदद करता है। ये आपके हार्मोन को संतुलित करने और इसके फंक्शन को बेहतर बनाने में मदद करता है।

मशरूम डायबिटिक है

मशरूम
मशरूम

मशरूम उच्च घुलनशील फाइबर बीटा-ग्लूकन का एक समृद्ध स्रोत है जो डायबिटीज और हाई ब्लड प्रेशर वाले लोगों को लाभ पहुंचा सकता है। मशरूम का फंगस आंत के रोगाणुओं को सकारात्मक रूप से प्रभावित करता है जिससे एक श्रृंखला प्रतिक्रिया होती है जो ब्लड शुगर के स्तर को प्रबंधित करने में मदद कर सकती है। साथ ही ये लो ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाला फूड भी है और इसमें कम मात्रा में काब्र्स होते हैं जो अन्य उच्च-कार्ब खाद्य पदार्थों की तुलना में स्पाइक की ओर नहीं ले जाते हैं।

मशरूम विटामिन डी का एक समृद्ध स्रोत हैं

मशरूम विटामिन डी से भी भरपूर है जो कि इम्यूनिटी बिल्डिंग में मददगार है और आपको हेल्दी रखता है। इनमें विटामिन डी2 होता है जो एक बार खाने के बाद विटामिन डी3 में बदल जाता है। यह हड्डियों के स्वास्थ्य, प्रतिरक्षा और चयापचय को बढ़ावा देने और सेक्स हार्मोन के उत्पादन में मदद करने के लिए आवश्यक है।

वेट लॉस में मददगार है

वजन कम करने की कोशिश करने वालों के लिए मशरूम एक बेहतरीन विकल्प है। ये कैलोरी कम करने में मददगार है क्योंकि इसका फाइबर पेट को भरा हुआ रखता है और भूख को नियंत्रित करता है। इसके अलावा मशरूम में काब्र्स की मात्रा भी कम होती है। ये कैलोरी और वसा में कम होते हैं और इनमें पानी, प्रोटीन और फाइबर की मात्रा अधिक होती है। इनमें तांबा, पोटेशियम, सेलेनियम, ग्लूटाथियोन और विटामिन सी भी होते हैं। ये हार्मोन को संतुलित करता है और बेकार के खाने से बचाता है।

मशरूम दिल के लिए फायदेमंद है

मशरूम में बीटा-ग्लूकेन्स, विटामिन बी3 (नियासिन) और पॉलीसेकेराइड की अच्छी मात्रा होती है जो हृदय स्वास्थ्य में सुधार करती है। नियासिन एलडीएल, कम घनत्व वाले लिपोप्रोटीन होते हैं जो खराब कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड्स को कम करने और एचडीएल यानी कि गुड कोलेस्ट्रॉल को कम करने में मददगार है।

इन तमाम फायदे के अलावा ल्यूक बताते हैं कि मशरूम पकाने में आसान है और आप इससे कई रेसिपी में ट्राई कर सकते हैं। आप मशरूम को बेक, रोस्ट, स्टिर-फ्राई या यहां तक कि मशरूम को एक सुंदर क्रीम सॉस में बदल सकते हैं। मशरूम सॉस को चार से पांच दिनों तक रेफ्रिजरेट किया जा सकता है। आप इसका उपयोग पास्ता, पिज्जा बनाने के लिए, करी को गाढ़ा करने के लिए डिप्स के रूप में, तली हुई सब्जियों पर ड्रेसिंग, ग्रिल्ड चिकन, मछली या यहां तक कि सलाद की तरह भी इस्तेमाल कर सकते हैं। तो, मशरूम खाएं और हेल्दी रहें।

यह भी पढ़ें : जब उमेश पाल पर बरस रही थीं गोलियां, बेटी से बोले अंदर जाओ, और फिर…