वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल में भारत के पास 100वीं टेस्ट जीत दर्ज कर चैंपियन बनने का मौका

8

भारतीय टीम 18 से 22 जून तक साउथैम्पटन में न्यूजीलैंड के खिलाफ वल्र्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल मुकाबला खेलेगी। भारत के पास 21वीं सदी में 100वीं टेस्ट जीत दर्ज कर चैंपियन बनने का मौका होगा। टीम इंडिया ने 21वीं सदी में (1 जनवरी, 2001 से अब तक) 214 टेस्ट मैच खेले हैं और 99 मैचों में जीत हासिल की है। 57 में हार मिली है और 36 मुकाबले ड्रॉ रहे हैं।

इस सदी में टेस्ट क्रिकेट में भारत से ज्यादा जीत सिर्फ ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड की टीमों को मिली है। ऑस्ट्रेलिया ने 224 टेस्ट मैच खेले हैं। इसमें उसे 130 में जीत और 58 में हार का सामना करना पड़ा है।

36 मुकाबले ड्रॉ रहे हैं, वहीं इंग्लैंड की टीम ने 258 मैचों में 155 मुकाबले जीते हैं और 85 में उसे हार का सामना करना पड़ा है। इंग्लैंड के 58 मैच ड्रॉ रहे हैं। भारत के बाद साउथ अफ्रीका (194 मैचों में 94 जीत) चौथे और श्रीलंका (191 मैचों में 74 जीत) पांचवें स्थान पर है। पाकिस्तान 164 मैचों में 65 जीत के साथ छठे स्थान पर है।

भारतीय टीम ने पिछली सदी में 336 मैचों में सिर्फ 63 में जीत हासिल की थी। भारतीय टीम 1932 से टेस्ट क्रिकेट खेल रही है। यानी यह पहला मौका होगा जब हमारी टीम एक सदी में 100 मैच जीतेगी। अभी तो 2021 ही है। सदी के अंत तक भारत दुनिया में सबसे ज्यादा मैच जीतने वाली टीम भी बन सकती है।

यह भी पढ़ें-टी20 मैचों की सीरीज खेलेगी ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम