भारत पहला टेस्ट हारा, दूसरी पारी में 36 रनों पर सिमटी टीम इंडिया

7

ऑस्ट्रेलिया ने एडिलेड में खेले गए डे-नाइट टेस्ट में भारतीय टीम को 8 विकेट से हरा दिया। टीम इंडिया की अपने दूसरे और विदेश में पहले पिंक बॉल टेस्ट में यह पहली हार है। भारत ने पहले डे-नाइट टेस्ट में अपने घर में पिछले साल बांग्लादेश को पारी और 46 रन से हराया था।

इस हार के साथ कप्तान विराट कोहली का भी एक रिकॉर्ड टूट गया है। कोहली पहली बार टॉस जीतकर कोई टेस्ट मैच हारे हैं। कोहली ने 2015 में टेस्ट टीम की कप्तानी संभाली थी। तब से अब तक 26 मैच में टॉस जीता है। इस दौरान उन्होंने 21 टेस्ट जीते (मौजूदा एडिलेड टेस्ट को छोड़कर) और 4 ड्रॉ खेले।

भारतीय टीम दूसरी पारी में 36 रन ही बना सकी

टीम इंडिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए पहली पारी में 244 रन बनाए थे। इसके बाद मेजबान ऑस्ट्रेलिया को 191 रन पर समेट दिया था। इसके बाद भारतीय टीम दूसरी पारी में 9 विकेट गंवाकर 36 रन ही बना सकी और ऑस्ट्रेलिया को 90 रन का टारगेट दिया था। भारत की पारी में आखिर में मोहम्मद शमी चोटिल होकर रिटायर हुए थे।

दूसरी पारी में अश्विन ने दो विकेट झटके

इसके जवाब में ऑस्ट्रेलिया ने 2 विकेट गंवाकर 93 रन बनाते हुए मैच अपने नाम कर लिया। दोनों विकेट रविचंद्रन अश्विन ने लिए। ओपनर मैथ्यू वेड 53 बॉल पर 33 रन बनाकर आउट हुए। विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा ने उन्हें स्टंप आउट किया। इसके बाद अश्विन ने मार्नस लाबुशाने (6) को मयंक अग्रवाल के हाथों कैच आउट कराया।

टीम इंडिया ने एक पारी में अपना सबसे कम स्कोर बनाया

भारतीय टीम का 36 रन टेस्ट की एक पारी में अब तक का सबसे कम स्कोर है। इससे पहले भारतीय टीम ने 46 साल पहले सबसे कम स्कोर 42 रन बनाया था। यह इंग्लैंड के खिलाफ लॉ‌र्ड्स में 1974 में बनाया था। उस वक्त भारतीय टीम 17 ओवर में ऑल आउट हो गई थी।

ऑस्ट्रेलिया अब तक डे-नाइट टेस्ट नहीं हारी

ऑस्ट्रेलिया ने अब तक 8 पिंक बॉल टेस्ट खेले हैं और सभी में जीत हासिल की है। टीम ने सभी मैच अपने घर में ही खेले हैं। इस मैच में ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 191 रन बनाए थे और लीड नहीं ले सकी थी। ऐसा पहली बार हुआ, जब ऑस्ट्रेलिया डे-नाइट टेस्ट में बाद में बैटिंग करते हुए पहली पारी में लीड नहीं ले सकी।