राष्ट्र्मंडल खेल – लॉन बाउल्स में भारतीय महिला टीम स्वर्ण पदक जीता

24
Indian women team
Indian women team

नई दिल्ली । लॉन बाउल्स में भारतीय महिला टीम ने फाइनल में दक्षिण अफ्रीका को 17-10 से हराकर स्वर्ण पदक जीता है।

भारतीय महिला टीम

भारतीय टीम ने मैच में शुरू से ही अपना दबाव बनाए रखा था और एंड 7 तक 8-2 की बढ़त हासिल की थी, लेकिन इसके बाद दक्षिण अफ्रीका ने बेहतरीन वापसी की और एंड 11 के बाद भारत पर 10-8 से बढ़त हासिल की। हालांकि इसके बाद भारतीय टीम ने वापसी करते हुए 17-10 से मैच जीतकर स्वर्ण पदक पर कब्जा किया।

यह राष्ट्रमंडल खेलों के इतिहास में लॉन बॉल में भारत का पहला पदक है। देश को बर्मिंघम में चौथा स्वर्ण पदक मिला है।

यह भी पढ़ें –राष्ट्रमंडल खेल: जेरेमी लालरिनुंगा ने भारत को दिलाया दूसरा स्वर्ण

लॉन बाउल्स के नियम

लॉन बाउल के नियम सरल हैं। इस खेल में एक बॉल को मैदान पर रोल (लुढ़काया) किया जाता है। इसका मकसद यह होता है कि बॉल को ‘जैक’ के ज्यादा से ज्यादा करीब पहुंचाया जाए। ‘जैक’ वह लक्ष्य होता है जहां बॉल को पहुंचाना होता है। जो खिलाड़ी या टीम प्रतिद्वंद्वी/विपक्षी टीम के मुकाबले जैक के ज्यादा करीब बॉल को पहुंचाता है वह विजेता होता है।

लॉन बॉलिंग में चार प्रारूप होते हैं, जिनमें एकल, युगल, तीन की टीम और चार की टीम शामिल है। जो कि प्रत्येक टीम में खिलाड़ियों की संख्या के अनुसार बांटे जाते हैं। प्रत्येक के लिए अलग-अलग पुरुष और महिला पदक इवेंट होते हैं। एकल मैचों में पहले 21 अंक हासिल करने वाला खिलाड़ी विजेता होता है। अन्य सभी प्रारूपों में 18 अलग-अलग एंड से बॉल को रोल किया जाता है और ज्यादा अंक बनाने वाली टीम विजेता होती है।