महावीर की जय-जयकार के बीच भव्य मंगलप्रवेश

202

साध्वी भव्यगुणा एवं साध्वी शीतलगुणा का चातुर्मास प्रवेश

बेंगलूरु/भीनमाल। जिस घड़ी का वर्षों से इंतजार था, आज वो पल आ ही गया। बारिश की झमाझम में ऐसा लगा मानो इंद्र देव ख़ुद चातुर्मास प्रवेश की साक्षी बनकर साध्वियों के पग पखारने स्वयं आ गये हों। भव्य शोभायात्रा के साथ हुआ आत्मीय अभिनन्दन। भव्य शोभायात्रा में आनंद महोत्सव की भावना सभी के चेहरे पर दिखाई दे रही थी। साध्वी वृन्द के आगमन से उत्साही श्रद्धालुओं के श्रध्दा भाव में हर्ष की उमंग दौड़ गई। श्रद्धालु पूरे मार्ग इस उत्साह को बुलंद जयघोषों से दर्शा रहे थे और अपनी श्रद्धा भाव को व्यक्त कर रहे थे। मंगल बैंड बाजो ढोल नगाड़ों के साथ मंगल प्रवेश कार्यक्रम प्रारंभ हुआ। बड़े हनुमान मंदिर से शोभायात्रा शुरू होकर कल्याण मंडप हॉल में धर्मसभा में परिवर्तित हो गई। रास्ते में श्रद्धालु आराध्य भगवान महावीर स्वामी, अहिंसा परमो धर्म के जयकारे लगाते हुए चल रहे थे।

सामैला एवं अक्षत गहुली की

मंगल प्रवेश के अवसर पर सामैला एवं अक्षत गहुली की गई। मीडिया प्रभारी माणकमल भंडारी ने बताया कि साध्वी भव्यगुणा ने कहा कि चातुर्मास उस दर्पण के समान है, जिसमें झांककर हम यह जान सकते हैं कि हम धर्म के कितने नजदीक हैं। साध्वी शीतल गुणा ने चातुर्मास का महत्व बताया।

बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने लिया भाग

संगीत सम्राट नरेन्द्र वाणीगोता ने संगीत स्वरलहरियां गुंजाई। गुरु भक्ति का परिचय देते हुए समां बांधा। अनेक भाई-बहनों ने चातुर्मासिक प्रवेश के स्वागत अभिनंदन-गीत प्रस्तुत की धार्मिक भावना व्यक्त की। इस अवसर पर कर्नूल संघ, होसपेट संघ, मुंबई, विजयवाड़ा, चैन्नई से भी गुरु भक्तों ने भाग लिया। चातुर्मास मंगल प्रवेश पर बाहर गांव से उपस्थित विभिन्न धार्मिक-सामाजिक संस्था, संघपति ने साध्वी वृन्द का अभिनन्दन करते हुए चातुर्मास की सफलता की शुभकामना व्यक्त की । समारोह में संघ अध्यक्ष नरेश बंबोरी ने अतिथियों का हार्दिक अभिनन्दन करते हुए चातुर्मास को ऐतिहासिक बनाने हेतु सबके सहयोग एवं समर्थन की अपील की। सिमंधर राजेन्द्र सूरि जैन ट्रस्ट मामुलपेट अध्यक्ष मेघराज भंसाली, नेमीचंद वेदमुथा, प्रकाश कुमार दादाल, हेमराज मोदी, त्रिलोकचंद भंडारी, दिलीपकुमार कांकरिया, कांतिलाल गांथीमुथा, किर्तिकुमार बंदामुथा, माधवनगर संघ अध्यक्ष प्रकाशकुमार पिरगल, कंटोनमेंट संघ ट्रस्टी मोहनलाल बोहरा, होसबन रोड ट्रस्टी इंदरचंद बोहरा, निर्मल बोहरा, रमेशचंद बोहरा, फ्रेजर टाउन ट्रस्टी वसंतराज भंसाली, पारस भंसाली, प्रवीण भंसाली, किरण भंसाली, सुरेश कांठेड, उत्तमचंद गादिया, कमल गादिया, नंदकिशोर, प्रवीणकुमार, रोशनलाल गोखरु, रोशनलाल बाफना, भीनमाल संघ के रमेशकुमार हरण, लेखराज दोशी, महेंद्र सेठ, राजेश वाणीगोता, महेंद्र मेहता, नाकोडा कॉन्फे्रंस के अध्यक्ष वसंराज बोहरा, देवेंद्र तातेड़, विजयराज गादिया, मनोज परमार, गौतमचंद लुणिया, युवा संगठन दिनेश खिवेसरा, श्रीरामपुरम् अध्यक्ष शांतिलाल खिंवेसरा, राजेन्द्रसूरि परिषद पदाधिकारी धीरज भंडारी, डूंगरचंद चोपड़ा, संभवनाथ जैन संघ अध्यक्ष शांतिलाल नागोरी, कमनहल्ली संघ अध्यक्ष विजयराज चुत्तर, प्रकाश चोपड़ा, तेजराज दांतेवाडिया, सुरेश पिरगल, सुरेश दांतेवाडिया आदि अनेक संघों के प्रमुखों, अनेक संस्थाओं के प्रमुखों ने संघपति, महिला मण्डल आदि ने भी साध्वीवृन्द का अभिनन्दन करते हुए चातुर्मासिक सफलता की मंगल कामना की। नारी शक्ति, श्रीराम पुरम राजेन्द्र सूरि मंडल, गुरु वंदना ग्रुप, सुनीलकुमार टीम ने संगीत से सलामी दी। कार्यक्रम का संचालन सुनील कुमार बंबोरी एवं धनंजय गुरुजी ने किया।

यह भी पढ़ें : स्वतंत्रता दिवस पर प्रांत के 11 हजार गांवों में फहराएंगे तिरंगा