चंद्र ग्रहण के दिन मंगल, शनि, सूर्य और राहु आमने-सामने

78
चंद्र ग्रहण
चंद्र ग्रहण

इन राशियों पर पड़ेगा अधिक असर

साल के अंतिम सूर्य ग्रहण के बाद अब साल का आखिरी चंद्र ग्रहण भी लगने जा रहा है। साल का अंतिम सूर्यग्रहण जहां 25 अक्तूबर को लगा था वहीं आखिरी चंद्र ग्रहण सूर्य ग्रहण के ठीक 15 दिन बाद देव दिवाली के दिन यानी 08 नवंबर को लगने जा रहा है। पहला चंद्र ग्रहण 16 मई 2022 को लगा था। 08 नवंबर को कार्तिक माह की पूर्णिमा तिथि भी है। यह चंद्र ग्रहण भारत में आंशिक सहित कई देशों में देखा जा सकेगा। सूतक सुबह आठ बजकर बीस मिनट से लग जाएंगे। इस दौरान धार्मिक अथवा शुभ कार्य नहीं हो सकेंगे। कई राशि के जातकों पर इसके प्रभाव की संभावना है। हिंदू पंचांग के अनुसार, कार्तिक माह के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि को देव दिवाली का पर्व मनाया जाता है। ऐसे में चलिए जानते हैं साल का अंतिम चंद्र ग्रहण किन राशियों को प्रभावित करेगा।

चंद्र ग्रहण का समय

चंद्र ग्रहण
चंद्र ग्रहण

भारतीय समय के अनुसार दोपहर 2:41 बजे से सायं 6:18 मिनट तक रहेगा।
भारत में दिखने का समय: सायं 5:32 मिनट से सायं 06:18 मिनट तक ही नजर आएगा।
सूतक काल सूतक काल 8 नवंबर को प्रात: 8 बजकर 20 मिनट से आरंभ होगा।

इस राशि में लगेगा चंद्र ग्रहण

साल का अंतिम चंद्र ग्रहण मेष राशि में लगेगा।

चंद्र ग्रहण पर कैसी रहेगी ग्रहों की दशा

चंद्र ग्रहण के दिन मंगल ग्रह, शनि ग्रह, सूर्य ग्रह और राहु आमने-सामने रहेंगे। इस स्थिति में तुला राशि पर सूर्य, चंद्रमा, बुध और शुक्र ग्रह का योग बन रहा है। इसके अतिरिक्त शनि ग्रह कुंभ राशि में पंचम और मिथुन राशि में नवम भाव पर मंगल की युति विनाशकारी योग बना रही है। गचंद्र ग्रहण पर ग्रहों का यह संयोग अशुभ माना जा रहा है।

इन राशियों को करेगा प्रभावित

साल का अंतिम चंद्र ग्रहण वृषभ, मिथुन, कन्या, तुला और वृश्चिक राशि को नकारात्मक रूप से अधिक प्रभावित करेगा। इन राशि के जातकों के स्वास्थ्य, आर्थिक स्थिति, करियर और व्यापार आदि मामलों में समस्याएं उत्पन्न हो सकती है। इसीलिए इन राशि के जातकों को सावधान रहने की आवश्यकता है।

यह भी पढ़ें : गुजरात में ईसूदान गढ़वी पर ‘आप’ ने लगाया दांव