विश्व हृदय दिवस पर चिकित्सा मंत्री ने दिया संदेश, हृदय स्वस्थ तो शरीर स्वस्थ

11

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ रघु शर्मा ने कहा कि आमजन कार्डियोवेस्कुलर रोगों से बचाव के लिए आवश्यक है कि हम हैल्दी लाइफस्टाइल को अपनाएं। उन्होंने कहा कि हृदय से संबंधित बीमारियों से बचने के लिए सामान्य एक्सरसाइज के अलावा साइक्लिंग और स्वीमिंग जैसी परंपरागत एक्सरसाइज को भी नियमित दिनचर्या में शामिल करना चाहिए।

हृदय रोग विश्व स्तर पर मृत्यु का मुख्य कारण

डॉ शर्मा ने बुधवार को वर्ल्ड हार्ट डे के मौके पर कार्डियोलॉजिकल सोसायटी आफ इंडिया की ओर से जयपुर में आयोजित ‘सीएसआई टूअर द रॉयल राजस्थान’ साइकिल मैराथन के समापन समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि हृदय रोग (सीवीडी) विश्व स्तर पर मृत्यु का प्रमुख कारण हैं। उन्होंने कहा कि प्रत्येक वर्ष अनुमानित 17.9 मिलियन लोगों की जान इस रोग से जाती है। पांच में से चार से अधिक सीवीडी मौतें दिल के दौरे और स्ट्रोक के कारण होती हैं और इनमें से एक तिहाई मौतें 70 वर्ष से कम उम्र के लोगों में समय से पहले होती हैं।

चिकित्सकों का प्रयास सराहनीय

चिकित्सा मंत्री ने कहा कि हृदय रोग के चिकित्सकों की ओर से साइकिल मैराथन का आयोजन हृदय संबंधी बीमारियों के प्रति आमजन में जागरुकता के लिए करना एक सराहनीय कदम है। इस मैराथन में आमजन के साथ चिकित्सकों ने भी बड़ी संख्या में भाग लिया है जो कि प्रेरणादायी है। उन्होंने कहा कि चिकित्सकों के इस प्रयास को हम सभी को सफल बनाने के लिए प्रण लेना चाहिए जिससे कि हृदय रोगियों की संख्या में कमी हो सके और माननीय मुख्यमंत्री का निरोगी राजस्थान का सपना साकार हो सके।

प्रदेश के कई शहरों में हुआ आयोजन

कार्डियोलॉजिस्ट सोसायटी ऑफ इंडिया के वाइस प्रेसिडेंट और मैराथन के कन्वीनर डॉ. जी.एल. शर्मा ने बताया कि राजधानी जयपुर में साइकिल मैराथन का प्रारंभ जयपुर मेडिकल एसोसिएशन एसएमएस (जेएमए) मेडिकल कॉलेज से हुआ। मैराथन जवाहर सर्किल स्थित पत्रिका गेट से वापस जयपुर मेडिकल एसोसिशन पर आकर समाप्त हुई। उन्होंने बताया कि वर्ल्ड हार्ट डे के अवसर पर साइकिल मैराथन का आयोजन जोधपुर, उदयपुर, बीकानेर, अजमेर और कोटा में भी किया गया।

चिकित्सा मंत्री ने किया सम्मानित

साइकिल मैराथन में बेहतर प्रदर्शन करने वाले प्रतियोगियों को चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ रघु शर्मा ने मैडल पहनाकर सम्मानित किया। नॉन डाक्टर्स व डाक्टर्स कैटेगरी वाले प्रतियोगियों को सम्मानित किया गया। मैराथन में शामिल प्रतियोगियों में स्टेट चैम्पियन के अतिरिक्त बाइकर्स कैटेगरी में देशभर में बेहतरीन प्रदर्शन करने वाले साइक्लिस्ट भी शामिल रहे।

साइकिल मैराथन के समापन समारोह में प्रदेश के गृह सचिव श्री अभय कुमार भी शामिल हुए। उन्होंने साइकिल प्रेमियों का उत्साहवर्धन कर उन्हें सम्मानित भी किया। उन्होंने वर्ल्ड हार्ट डे पर आयोजित इस कार्यक्रम के लिए सभी को शुभकामनाएं भी दी।

यह भी पढ़े-प्रधानमंत्री मोदी ने राजस्थान में 4 मेडिकल कॉलेज की आधारशिला रखी, सीएम गहलोत की जमकर तारीफ की