नयाबाजार ने युवाओं को COVID-19 के दौर में बनाया आत्मनिर्भर

8

नयाबाजार एजुकेशनल ऑनलाइन प्लेटफॉर्म है

नयाबाजार पहली से लेकर चौथी वर्ष के गीता कॉलेज , भुवनेश्वर, उड़ीसा के विद्यार्थियों द्वारा बनाया गया है

कुछ समय पहले नयाबाजार सिर्फ (को- फाउंडर्स)  देबीप्रसाद समल, दीपेश गौरव, शिवम् गिरी और अन्य काबिल विद्यार्थी का एक समूह था। जो भारत में समय बचाने वाला प्लेटफॉर्म बनाना चाह रहे थे। अब राज्यों के विभिन्न हिस्सों से कई छात्र हैं जो घर से ऑनलाइन काम करके शिक्षा के बारे में सभी पारंपरिक रूढ़ियों को तोड़ने में मदद कर रहे हैं। नयाबाजार के 1250+ फॉलोवर्स सोशल मीडिया पर हैं ।

नयाबाजार प्रोफेशनल मेंटॉअर्स के जरिये हार्ड,सॉफ्ट और पेर्सोनेलिटी के कौशल को बनती है। नयाबाजार को इडेक्स -लाइव  न्यूज़पेपर में प्रकाशित किया था जिसकी वजह से इंडेक्स-लाइव तथा नयाबाजार  के फॉलोवर्स की बढ़ौतरी हुई।

इतने कष्टों और परिश्रम के बाद नयाबाजार  का लक्ष्य बन गया की वो लोगो के दिलो में अपनी जगह बनाये। नयाबाजार  ‘स्टार्ट-उप ओडिशा’  द्वारा चुना गया था तथा ‘स्टार्ट-उप बूट कैंप ‘ (ट्रिडेंट) में जीत हासिल की थी । 

नयाबाजार एक ऐसा एजुकेशनल ऑनलाइन प्लेटफॉर्म है जो एक नए मिशन के साथ, भारतीय युवाओ को इस  COVID-19 के दौर में आत्मनिर्भर बनाने का कठिन प्रयास करता है। नयाबाजार पहली से लेकर चौथी वर्ष  के गीता कॉलेज, भुवनेश्वर, उड़ीसा के विद्यार्थियों द्वारा बनाया गया है। 

इन विद्यार्थियों ने अपने सुख व चैन का त्याग किया ताकि वो इस्तेमाल करने में आसान तथा सटीक फिल्टर्स वाला एजुकेशनल  प्लेटफॉर्म बना सके जिससे उन लोगो का समय बच सके जो अपनी पूर्ण श्रद्धा से सीखना , कमाना और खुद को बेहतर बनाना चाहते है। नयाबाजार के चार डोमेन्स है, कम्पेरिंग  कोर्सेज , रैज्यूमे, मेंटॉअर्स  और जॉब्स। 

इस प्लेटफॉर्म से आत्मनिर्भर बनने के अवसर प्राप्त कर सकते है।  COVID-19 के इस कठिन दौर में युवाओं के विकास के लिए  नयाबाजार उदाहरण के रूप में प्रदर्शित होता है।