पेटीएम पेमेंट्स बैंक ने डेबिट कार्ड लॉन्च करने के लिए मास्टरकार्ड के साथ की साझेदारी

46
पेटीएम, paytm
पेटीएम, paytm

पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड (पीपीबीएल) ने वर्चुअल और फिजिकल डेबिट कार्ड जारी करने के लिए मास्टरकार्ड के साथ साझेदारी की है।

नई दिल्ली । भारत के सबसे बड़े भुगतान बैंक पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड (पीपीबीएल) ने वर्चुअल और फिजिकल डेबिट कार्ड जारी करने के लिए मास्टरकार्ड के साथ साझेदारी की है। इस साझेदारी के तहत पीपीबीएल
मास्टरकार्ड के बेहतरीन मोबाइल और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) क्षमताओं का उपयोग करने में सक्षम होगा और अपने ग्राहकों को डिजिटल लेनदेन के लिए उच्च स्तर की सुरक्षा प्रदान करेगा।

शुरूआत में पीपीबीएल अपने नए ग्राहकों को मास्टरकार्ड वर्चुअल डेबिट कार्ड जारी करेगा| इससे ग्राहक सभी ऑनलाइन लेन-देन बहुत ही सुरक्षित रुप से कर सकेंगे| ऑनलाइन लेन-देन रोजमर्रा की खरीदारी के लिए एक तेज, आसान और सुरक्षित माध्यम है।

पीपीबीएल के सीईओ और प्रबंध निदेशक सतीश कुमार गुप्ता ने डिजिटल भुगतान की अग्रणी भूमिका बताया

जल्द ही ग्राहकों को फिजिकल कार्ड के लिए अनुरोध करने का विकल्प भी उपलब्ध होगा| मास्टरकार्ड की चिप-आधारित तकनीक द्वारा समर्थित यह कार्ड ग्राहकों को काॅन्ट्रैक्टलेस-इन-स्टोर लेनदेन करने में सक्षम बनाता है। इसके अतिरिक्त वे दुनिया भर में 1 मिलियन से अधिक एटीएम पर नकदी निकालने में भी सक्षम होंगे।

यह भी पढ़ें-पेटीएम गोल्ड में निवेश करें और पाएं गोल्डबैक

इस साझेदारी पर बात करते हुए पेटीएम पेमेंट्स बैंक लिमिटेड के सीईओ और प्रबंध निदेशक सतीश कुमार गुप्ता ने कहा, “हम देश में डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देने में अग्रणी भूमिका निभा रहे हैं।

हम अपने ग्राहकों को डिजिटल भुगतान के लिए उनकी पसंद और सुविधा के अनुसार कोई भी तरीका चुनने के लिए उन्हें अधिकतम विकल्प प्रदान करना चाहते हैं, और मास्टरकार्ड के साथ हमारी साझेदारी इसी दिशा में एक कदम है।

पीपीबीएल मास्टरकार्ड के बेहतरीन मोबाइल और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) क्षमताओं का उपयोग करने में सक्षम होगा

साझेदारी पर टिप्पणी करते हुए मास्टरकार्ड के दक्षिण एशिया के डिवीजन प्रेसिडेंट पोरूश सिंह ने कहा, ” अन्य देशों की तुलना में भारत में डिजिटल भुगतान का चलन तेजी से बढ़ रहा है, लेकिन अभी भी 90 % खुदरा लेनदेन नकदी में होता है।

मास्टरकार्ड डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देने के भारत सरकार के प्रयासों में सहयोग को लेकर प्रतिबद्ध है। इस दिशा में आगे बढ़ते हुए मास्टरकार्ड अपने एकीकृत वैश्विक भुगतान प्रणाली की सुविधा पेटीएम पेमेंट्स बैंक के साथ साझा कर रहा है, ताकि कार्डधारकों को इलेक्ट्रॉनिक भुगतान करने के सबसे सुरक्षित तरीके तक पहुंच सुनिश्चित किया जा सके।