अमेजन में छंटनी की तैयारी

25
अमेजन
अमेजन

श्रम मंत्रालय ने कंपनी के अधिकारी को जवाब देने के लिए बुलाया

नई दिल्ली। ई-कॉमर्स क्षेत्र की दिग्गज कंपनी अमेजन वैश्विक स्तर पर बड़े पैमाने पर छंटनी की तैयारी कर रही है। छंटनी की यह प्रक्रिया अगले हफ्ते शुरू हो सकती है। कंपनी के इस लेऑफ से भारत में भी बड़े पैमाने पर कंपनी से जुड़े कर्मचारियों के प्रभावित होने का खतरा पैदा हो गया है। इस बीच भारतीय श्रम मंत्रालय ने भी इस पर सख्त रुख अपनाया है। श्रम मंत्रालय की ओर से इस संबंध में नोटिस जारी कर एक बड़े अधिकारी को जवाब देने के लिए बुलाया गया है।

जेफ बेजोस ने भी अपने यहां बड़ी छंटनी का किया ऐलान

अमेजन
अमेजन

ट्विटर और फेसबुक जैसी दिग्गज आईटी कंपनियों में छंटनी की खबरों के बीच अमेजन के मुखिया जेफ बेजोस ने भी अपने यहां बड़ी छंटनी का ऐलान किया कर दिया है। रिपोर्ट के मुताबिक कंपनी इस सप्ताह कॉरपोरेट और आईटी क्षेत्र में काम करने वाले लगभग दस हजार लोगों को घर वापस भेजने की योजना बना रहा है। मीडिया रिपोट्र्स के मुताबिक छंटनी की जद में बड़ी संख्या में भारतीय कर्मचारी भी आएंगे।

कर्मचारियों के बीच डर का माहौल

बता दें कि 31 दिसंबर 2021 तक के आंकड़ों के मुताबिक अमेजन में स्थायी और अस्थायी कर्मचारियों की संख्या करीब 16 लाख थी। मीडिया रिपोट्र्स के अनुसार भारत में छंटनी की खबरों के बीच श्रम मंत्रालय ने अमेजन इंडिया के पब्लिक पॉलिसी मैनेजर को जवाब देने के लिए बुलाया है। इस पद पर तैनात स्मिता शर्मा को 23 सितंबर को जवाब देने के लिए तलब किया गया। नोटिस में कहा गया है कि कंपनी के करीब 30 कर्मचारियों को नवंबर की डेडलाइन देकर उनके साथ वॉलेंटरी सैपरेशन प्रोग्राम की डिटेल साझा की गई है। उसे बाद से कर्मचारियों के बीच डर का माहौल है।

यह भी पढ़ें : कांग्रेस नेता की बेटी का अपहरण