राजस्थान : ताल-तलैया छलके, कालीसिंध डैम के गेट खोले

82
जयपुर

बीसलपुर बांध में बढ़ा पानी का स्तर

जयपुर। राजस्थान के ज्यादातर हिस्सों में शानदार बारिश के समाचार मिल रहे हैं। पिछले तीन दिन से हो रही बारिश से प्रदेश के ज्यादातर ताल-तलैया छलक आए हैं। पानी की मात्रा बढऩे की वजह से कालीसिंह डैम के गेट खोल गए हैं। वहीं, बीसलपुर बांध में भी पानी बढऩे की खबरें मिल रही हैं। हालांकि लगातार बारिश के कारण राजधानी जयपुर के अलग-अलग हिस्सों में जलभराव होने से लोगों को परेशानी हो रही है।

जयपुर

मौसम विशेषज्ञों की माने तो अगले 2 दिन बाद बंगाल की खाड़ी में एक नया स्ट्रॉन्ग सिस्टम बनने की उम्मीद है, जिसके प्रभाव से राजस्थान, मध्य प्रदेश समेत मध्य भारत के कई हिस्सों में अच्छी बरसात से मौसम में बदला है। बुधवार को फिर से बारिश शुरू होने के बाद पाली, झालावाड़ में तेज बारिश से बांधों का जलस्तर बढ़ गया। कालीसिंध बांध का एक गेट खोलकर वहां से पानी की निकासी की जा रही है। पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा बरसात पाली जिले के रानी में 96 एमएम दर्ज हुई। रानी के अलावा फालना, देसूरी सहित आस-पास के इलाकों में अच्छी बरसात से जवाई और हेमावास बांध का जलस्तर बढ़ गया।

बांध का जलस्तर बढ़ा

जयपुर

इधर झालावाड़ के कालीसिंध डैम के कैचमेंट एरिया में भी 60 एमएम बारिश के बाद बांध का जलस्तर बढ़ गया, जिसके बाद प्रशासन ने बांध का एक गेट खोलकर 2473 क्यूसेक से ज्यादा पानी की निकासी शुरू करवा दी। भीलवाड़ा, राजसमंद एरिया में अच्छी बारिश से त्रिवेणी नदी का गेज 3 मीटर पर चल रहा है, जिससे बीसलपुर बांध में 353.15 क्यूसेक पानी की आवक हुई। पाली, झालावाड़ के अलावा राजसमंद, अजमेर, अलवर, भीलवाड़ा, चित्तौडग़ढ़, जयपुर, प्रतापगढ़, उदयपुर, दौसा समेत अन्य कई जिलों में बारिश हुई।

जयपुर में सुबह से झमाझम बारिश

जयपुर शहर में बुधवार देर शाम बारिश के बाद गुरुवार सुबह भी कई जगहों पर झमाझम बारिश हुई। चारदीवारी, एमआई रोड, टोंक रोड, रामनिवास बाग, जेएलएन मार्ग, ब्रह्मपुरी समेत कई जगह बारिश से सुबह जगह-जगह पानी भर गया। सुबह बारिश के कारण स्कूल-दफ्तर जाने वाले लोगों को परेशानी हुई। शहर में कई जगह वाटर लॉगिंग होने से सड़कों पर पानी भर गया, जिससे ट्रैफिक का मूवमेंट भी धीमा पड़ गया।

जयपुर

अब आगे क्या?

जयपुर मौसम केन्द्र ने अगले 24 घंटे के अंदर जयपुर के अलावा अलवर, बूंदी, कोटा, झुंझुनूं, चूरू, सीकर, डूंगरपुर, बांसवाड़ा, सवाई माधोपुर, अजमेर, भीलवाड़ा, नागौर, पाली, उदयपुर, डूंगरपुर, प्रतापगढ़, जालोर, राजसमंद, सिरोही में कहीं-कहीं मध्यम से तेज दर्जे की बारिश होने का अनुमान जताया है। वहीं, 5 अगस्त को अजमेर, बांसवाड़ा, बारां, भीलवाड़ा, बूंदी, चित्तौडग़ढ़, झालावाड़, कोटा, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक जिलों में बारिश होने का अलर्ट जारी किया है।

यह भी पढ़ें : गर्भस्थ शिशु को मां भावात्मक संस्कार दे सकती है : आचार्य