ऋषभ पंत ने चौथे टेस्ट में खेली रिकॉर्ड तोड़ पारी, तोड़े कई रिकॉर्ड

8

भारत के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने अपनी उपलब्धियों की सूची में एक और रिकॉर्ड जोड़ लिया है। अपनी बेखौफ बल्लेबाजी के लिए पहचाने जाने वाले पंत ने ब्रिस्बेन टेस्ट की चौथी पारी के 58.3 ओवर में दो रन लेते हुए टेस्ट क्रिकेट में अपने हजार रन पूरे किए।

इसके साथ ही उन्होंने पूर्व विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी का रिकॉर्ड भी तोड़ दिया। पंत अब सबसे कम (27) पारियों में हजार रन बनाने वाले भारतीय विकेटकीपर बन गए हैं। उनके बाद महेंद्र सिंह धोनी (32), फारुख इंजीनियर (36) और फिर ऋधिमान साहा (37) का नंबर आता है। 

ओवरऑल की बात करें तो सबसे तेज 1000 टेस्ट रन बनाने का रिकॉर्ड दक्षिण अफ्रीका के विकेटकीपर क्विंटन डीकॉक के नाम पर दर्ज है। उन्होंने वह उपलब्धि मात्र 21 पारियों में ही हासिल कर ली थी। इस मामले में भारत का कोई भी विकेटकीपर शीर्ष पांच में भी शामिल नहीं है। 

उधर बात करें ऋषभ पंत की तो विदेशी सरजमीं पर उनका रिकॉर्ड बेहतरीन है। वह 2018 में इंग्लैंड में दो शतक और ऑस्ट्रेलिया में एक शतक लगा चुके हैं। मौजूदा सीरीज में भी वह महज तीन रन से शतक से चूके थे।

सिडनी टेस्ट की दूसरी पारी में 118 गेंदों में ताबड़तोड़ 97 रन बनाने वाला यह खब्बू बल्लेबाज अगर कुछ देर और क्रीज पर टिक जाता तो ड्रॉ पर छूटा तीसरा टेस्ट भारत की मुट्ठी में होता।

पंत के पास बतौर भारतीय विकेटकीपर एक और शानदार रिकॉर्ड दर्ज है और इस मामले में भी वे धोनी से आगे हैं। पंत टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज 50 शिकार करने वाले भारतीय विकेटकीपर हैं। उन्होंने यह कारनामा 11वें टेस्ट की 22वीं पारी में किया था।