जेईई-नीट रद्द करने की छह राज्यों की याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की

24

पंजाब, झारखंड, पश्चिम बंगाल, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र सरकार ने रिव्यू पिटीशन दायर की थी

नई दिल्ली। जेईई-नीट रद्द करने के लिए दायर की गई छह राज्यों की पुनर्विचार याचिका सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को खारिज कर दी। अब नीट-यूजी परीक्षा 13 सितंबर से ही होगी। जेईई मेन 1 सितंबर से शुरू हो चुकी है।

28 अगस्त को दायर की थी याचिका

सुप्रीम कोर्ट ने 17 अगस्त के फैसले में परीक्षा तय तारीख से कराने का आदेश दिया था। इस फैसले के खिलाफ छह राज्यों के कैबिनेट मंत्रियों ने 28 अगस्त को पुनर्विचार याचिका दायर की गई थी। याचिका दायर करने वाले राज्यों में पंजाब, झारखंड, पश्चिम बंगाल, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र शामिल हैं।

महामारी और बाढ़ की वजह से परीक्षा स्थगित करने की मांग

देश भर में महामारी और कई राज्यों में बाढ़ की स्थिति को देखते हुए स्टूडेंट्स, पैरेंट्स, कई छात्र संगठन और राजनीतिक दलों ने परीक्षा स्थगित करने की मांग की थी। वहीं, नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने विरोध के बावजूद कोरोना से बचाव के लिए जरूरी गाइडलाइंस के साथ जेईई मेन 1 सितंबर से शुरू कर दी गई है। यह 6 सितंबर तक चलेगी। उधर, मेडिकल में एडमिशन के लिए होने वाली नीट परीक्षा 13 सितंबर को होगी।