हलवा समारोह के साथ केंद्रीय बजट बनाने का काम अंतिम चरण में पहुंचा

9

वित्त मंत्री ने “यूनियन बजट मोबाइल ऐप” लांच किया, इसके जरिए सभी पक्ष बजट संबंधित सभी सूचनाएं बेहद जल्द और आसानी से प्राप्त कर सकेंगे।

नई दिल्ली। केंद्रीय बजट 2021-22 के लिए बजट बनाने की प्रक्रिया का अंतिम चरण शुरू हो गया है। परंपरा के अनुसार, इस उपलक्ष्य में हर साल होने वाला हलवा समारोह आज दोपहर में आयोजित किया गया।  केंद्रीय वित्त और कॉरपोरेट मामलों के मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमण की उपस्थिति में नॉर्थ ब्लॉक में समारोह आयोजित किया गया। हर साल होने वाले हलवा समारोह के साथ ही बजट बनाने की प्रक्रिया के तहत “लॉक इन” प्रक्रिया शुरू हो गई है।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image001UL6E.jpg

एक अभूतपूर्व पहल के तहत, केंद्रीय बजट 2021-22 को पेपरलेस (प्रिटिंग नहीं होगी) रूप में वितरित किया जाएगा। इस तरह का कदम पहली बार उठाया जा रहा है।  केंद्रीय बजट 2021-22 को एक फरवरी, 2021 को पेश किया जाएगा।

इस अवसर पर, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने संसद सदस्यों और आम लोगों को आसानी से और तेजी से बजट से संबंधित दस्तावेज मिल सके, इसके लिए “यूनियन बजट मोबाइल ऐप” लॉन्च किया। मोबाइल ऐप में केंद्रीय बजट से संबंधित सभी 14 दस्तावेज उपलब्ध होंगे। इसके तहत वार्षिक वित्तीय विवरण (आमतौर पर इसे बजट के रूप में जाना जाता है), अनुदान की मांग (डीजी), वित्त विधेयक आदि जैसे दस्तावेज उपलब्ध होंगे जो कि संविधान के अनुसार तय किए गए हैं।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image002UR9Z.jpg

ऐप में डाउनलोडिंग, प्रिंटिंग, सर्च, जूम इन और आउट, बाईडायरेक्शनल स्क्रॉलिंग, कंटेंट और एक्सटर्नल लिंक की तालिका आदि के साथ उपयोगकर्ताओं के अनुकूल इंटरफेस उपलब्ध है। ऐप अंग्रेजी और हिंदी दोनों भाषाओं में उपलब्ध है। साथ ही यह एंड्रॉयड और आईओएस प्लेटफॉर्म में उपलब्ध होगा। ऐप को केंद्रीय बजट के वेब

पोर्टल www.indiabudget.gov.in से भी डाउनलोड किया जा सकता है। ऐप को आर्थिक मामलों के विभाग (डीईए) के मार्गदर्शन में राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र (एनआईसी) द्वारा विकसित किया गया है।

बजट दस्तावेज, वित्त मंत्री द्वारा 1 फरवरी, 2021 को संसद में बजट भाषण पूरा होने के बाद मोबाइल ऐप पर उपलब्ध होंगे।

हलवा समारोह में, केंद्रीय वित्त मंत्री के साथ केंद्रीय वित्त और कॉरपोरेट मामलों के राज्य मंत्री श्री अनुराग सिंह ठाकुर साथ में थे। इस अवसर पर वित्त सचिव और राजस्व सचिव डॉ. ए.बी. पांडे, व्यय सचिव टी वी सोमनाथन, आर्थिक मामले के सचिव तरुण बजाज, डीआईपीएएम सचिव तुहिन कांता पांडे, वित्तीय सेवाएं विभाग के सचिव देबाशीष पांडा, मुख्य आर्थिक सलाहकार डॉ. के.वी. सुब्रमण्यन,अतिरिक्त सचिव (बजट) रजत कुमार मिश्रा,और मंत्रालय के अन्य अधिकारी मौजूद थे।

सीबीडीटी के चेयरमैन पी.सी. मोदी, सीबीआईसी के अध्यक्ष, श्री एम.अजीत कुमार के अलावा वित्त मंत्रालय के अन्य अधिकारी और कर्मचारी, जो बजट की तैयारी और उसको बनाने की प्रक्रिया में शामिल है, वह भी इस अवसर पर उपस्थित थे। समारोह के बाद वित्त मंत्री ने केंद्रीय बजट 2021-22 के तैयारियों की समीक्षा की और अधिकारियों को अपनी शुभकामनाएं दीं।