प्रोटीन पाउडर की जगह इस औषधि का करें सेवन

24
प्रोटीन पाउडर
प्रोटीन पाउडर

एक महीने में ही शारीरिक शक्ति में दिखेगा गजब का लाभ

जिम जाने वाले लोगों को अक्सर आपने प्रोटीन पाउडर का सेवन करते हुए देखा होगा। माना जाता है कि यह मांसपेशियों के निर्माण और शारीरिक शक्ति को बढ़ाने में फायदेमंद है। पर प्रोटीन पाउडर को लेकर हुए कई अध्ययनों में शोधकर्ताओं ने इसके कई प्रकार के साइड-इफेक्ट्स को लेकर लोगों को बार-बार अलर्ट किया है। शोधकर्ताओं ने पाया कि आसानी से बाजार में उपलब्ध प्रोटीन पाउडर में स्टेरॉयड मिला होता है जिसके सेवन के कारण कई प्रकार की दीर्घकालिक स्वास्थ्य समस्याओं का जोखिम हो सकता है। इससे आपका शरीर तो तेजी से भरने लगता है पर यह गंभीर बीमारियों का कारण बन सकती है।

स्वास्थ्य विशेषज्ञ कहते हैं, अगर आप भी फिटनेस को बेहतर रखना चाह रहे हैं तो प्रोटीन पाउडर की जगह अन्य वैकल्पिक उपायों को प्रयोग में लाएं। अश्वगंधा का सेवन करना इसमें आपके लिए विशेष लाभकारी हो सकता है। आयुर्वेद में अश्वगंधा के कई प्रकार के लाभ का जिक्र मिलता है। आइए जानते हैं कि अश्वगंधा का सेवन करना किस प्रकार से लाभकारी हो सकता है?

अश्वगंधा कई प्रकार से लाभकारी

प्रोटीन पाउडर
अश्वगंधा

अश्वगंधा आयुर्वेद की सबसे महत्वपूर्ण जड़ी बूटियों में से एक है, जो प्राकृतिक चिकित्सा के लिए वर्षों से प्रयोग में लाई जाती रही है। मांसपेशियों के निर्माण को बढ़ावा देने के साथ, तनाव दूर करने, ऊर्जा के स्तर को बढ़ाने और एकाग्रता में सुधार करने में अश्वगंधा का सेवन करना विशेष फायदेमंद हो सकता है। अश्वगंधा, एथलीटिक गतिविधि को सुधारने और शारीरिक प्रदर्शन को बेहतर रखने में काफी लाभकारी है। इसे प्रोटीन पाउडर के विकल्प के तौर पर प्रयोग में लाया जा सकता है।

शारीरिक प्रदर्शन में फायदेमंद

प्रोटीन पाउडर
प्रोटीन पाउडर

अध्ययनकर्ताओं ने पाया कि नियमित रूप से अश्वगंधा का सेवन करना मांसपेशियों के निर्माण को बढ़ाने और ऊर्जा के स्तर को बेहतर करने में विशेष लाभप्रद हो सकता है। पुरुषों और महिलाओं, दोनों पर किए गए अध्ययन में पाया गया कि रोजाना अश्वगंधा का सेवन करने वाले लोगों का शारीरिक प्रदर्शन बेहतर हो सकता है। व्यायाम के दौरान शक्ति और ऑक्सीजन के उपयोग को बढ़ाने में भी इसके लाभ हैं। पांच अध्ययनों के विश्लेषण में पाया गया कि अश्वगंधा लेने से वयस्कों और एथलीटों के प्रदर्शन में काफी सुधार देखा गया।

अवसाद-चिंता का जोखिम कम

प्रोटीन पाउडर
अवसाद-चिंता

अश्वगंधा न सिर्फ शारीरिक फिटनेस को बढ़ावा देने में सहायक है, साथ ही मानसिक स्वास्थ्य में भी इससे लाभ पाया जा सकता है। अध्ययन में, शोधकर्ताओं ने सिज़ोफ्रेनिया वाले 66 लोगों में अश्वगंधा के प्रभावों को देखा, जो अवसाद और चिंता का अनुभव कर रहे थे। जिन प्रतिभागियों ने 12 सप्ताह तक रोजाना 1,000 मिलीग्राम अश्वगंधा के अर्क का सेवन किया उनमें इस तरह की समस्याओं का जोखिम कम पाया गया। अश्वगंधा मानसिक स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है।

प्रजनन क्षमता संबंधी लाभ

प्रोटीन पाउडर
प्रजनन क्षमता

अश्वगंधा, प्रजनन क्षमता को भी सुधारने वाली कारगर औषधि मानी जाती है। पुरुषों की प्रजनन क्षमता को लाभ पहुंचाने और टेस्टोस्टेरोन के स्तर को बढ़ाने में इसके प्रभावी लाभ देखे गए हैं। अध्ययन में 40-70 आयु वर्ग के 43 पुरुषों को 8 सप्ताह तक रोजाना अश्वगंधा के अर्क दिया गया। निष्कर्ष में पाया गया कि यह टेस्टोस्टेरोन उत्पादन को बढ़ाने में बेहतर लाभ प्रदान करती है। पुरुषों की प्रजनन क्षमता को बढ़ावा देने के लिए भी डॉक्टर की सलाह पर इसका सेवन किया जा सकता है।

यह भी पढ़ें : धीरेंद्र शास्त्री के चमत्कारों से जुड़े विवाद की कहानी, कभी एक वक्त का खाना मिलना था मुश्किल