वाहनों के पास बाल वाहिनी परमिट होना जरूरी : मीणा

47

सीबीईओ ने किया राजकीय एवं निजी विद्यालयों का निरीक्षण, दिए दिशा निर्देश

धौलपुर। धौलपुर राजकीय एवं निजी विद्यालयों में शिक्षण एवं अन्य व्यव्स्थाओं को लेकर शुक्रवार को मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी दामोदर लाल मीणा ने कई राजकीय एवं निजी विद्यालयों को निरीक्षण किया। जिसमें उन्होने विद्यालयों की व्यवस्थाओं के देखा तथा संस्था प्रधानों से जानकारी ली।

मीणा ने बिरौंधा के सेंट जैवियरर्स स्कूल का निरीक्षण किया जिसमें उन्होने कोरोना गाइड लाइन के साथ ही विद्यालय में बच्चों की शैक्षणिक स्तर को लेकर जानकारी ली। इस दौरान विद्यालय में मौजूद अभिभावकों की ओर से विद्यालय प्रबंधन की कार्यशैली को लेकर शिकायत की। जिसमें उन्होने स्कूल बस में क्षमता से अधिक बच्चों को बिठाने के साथ ही शैक्षिक व्यव्स्था को लेकर आरोप लगाए। जिस पर सीबीईओ मीणा ने स्कूल के संस्था प्रधान को निर्देशित किया कि स्कूल वाहनों के पास बाल वाहिनी परिमिट होना आवश्यक है

ऐसा नही होने पर संबंधित वाहन के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उन्होने संस्था प्रधान को विद्यालय में कार्यरत शिक्षकों की समस्त जानकारी सहित स्कूल के वाहनों की डिटेल सीबीईओ कार्यालय में तीन दिन में पेश करने के निर्देष दिए। उन्होने कहा कि बच्चों के शैक्षणिक स्तर में सुधार लाने के लिए बिषय अध्यापक को निर्देशित किया।

उन्होने कहा कि ब्लॉक में संचालित निजी विद्यालयों में लगे वाहनों के पास बाल वाहिनी परिमट होना आवश्यक है ऐसा नही होने पर संबंधित के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। मीणा ने बताया कि निजी विद्यालय सेंट जैवियर्स में कई खामियां मिलीं, जिसे लेकर सात दिन में दूर करने के लिए निर्देशित किया गया है। सात दिन में खामियों में सुधार नही होने पर संस्था के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। वही राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय बिरौंधा,सरानीखेड़ा, मसूदपुर में निरीक्षण किया गया जिसमें सभी कक्षाएं नियमित संचालित पाई गई। वही सभी व्यवस्थाएं भी दुरस्त मिली।

यह भी पढ़ें- आरबीएम में 60 लाख की लागत से बनी मोर्चरी, स्टूडेंट्स के लिए बनाई दर्शक दीर्घा