भारत माता के जयकारों के बीच अजमेर में आईटीबीपी साइकिल रैली का स्वागत

12

आजादी के अमृत महोत्सव के तहत लद्दाख घोघरा से प्रारंभ हुई भारत तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) की साइकिल रैली रविवार को अजमेर पहुंची। राष्ट्रीय राजमार्ग पर बालाजी मंदिर, नारेली, बिरला सिटी वाटर पार्क और चोयल स्कूल ऑफ मिलिंग टेक्नालॉजी (सीएसएमटी) सहित अन्य स्थानों पर साइकिल रैली में शामिल जवानों औैर अफसरों का पुष्पवर्षा औैर माल्यार्पण कर भव्य स्वागत किया गया।

कार्यक्रम में एसपी जगदीश प्रसाद शर्मा सहित स्थानीय प्रशासन के अन्य अफसरों ने भी शिरकत कर आईटीबीपी जवानों का हौसला बढ़ाया। साइकिल रैली अजमेर से खरवा होते हुए ब्यावर के लिए प्रस्थान कर गई। मालूम हो कि देशभर में सेना, अर्धसैनिक बलों औैर पुलिस द्वारा इस तरह की रैलियां आयोजित कर शहीदों के घर पहुंचकर उनके परिवारों औैर गांव के लोगों से मुलाकात की जा रही है।

रैली का बिरला सिटी वाटर पार्क में भव्य स्वागत किया गया। इसके बाद चोयल ग्रुप आफ इंडस्ट्रीज की ओर से अर्जुनपुरा खालसा स्थित चोयल स्कूल आफ मिलिंग टेक्नोलॉजी (सीएसएमटी) परिसर में भव्य स्वागत किया गया। स्कूल के बाहर एमडी श्रीगोपाल शर्मा सहित समस्त स्टाफ द्वारा पुष्प वर्षा औैर तालियों के साथ जवानों की हौसला अफजाई की गई। इस मौके पर जनरल मैनेजर अनिरुद्ध शर्मा, मैनेजर सीपी सैनी औैर मैनेजर अनिल बंजारा सहित अन्य स्टाफ मौजूद था।

साइकिल रैली का नेतृत्व कर रहे आईटीबीपी के डिप्टी कमांडेंट अजय शर्मा, अस्सिटेंट कमांडेंट अदीश गुप्ता औैर इंस्पेक्टर महिपाल सिंह का एमडी श्रीगोपाल शर्मा द्वारा गुलदस्ता भेंट कर स्वागत किया गया। 108 फिट के तिरंगे के नीचे राष्ट्रगान के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ। इसके बाद साइकिल रैली खरवा के लिए प्रस्थान कर गई।

आईटीबीपी का स्वागत हमारा सौभाग्य : श्रीगोपाल

एमडी श्रीगोपाल शर्मा ने अपने संबोधन में कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव पर आईटीबीपी की साइकिल रैली राष्ट्रीय एकता औैर अमन का पैगाम लेकर निकली है। रैली में शामिल जवानों औैर अफसरों का सम्राट पृथ्वीराज चौहान की नगरी में हार्दिक स्वागत है।

रैली का उद्देश्य प्रत्येक भारतीय में राष्ट्र प्रथम की भावना विकसित करना है, इस उद्देश्य को आईटीबीपी बखूबी पूरा कर रही है। शर्मा ने कहा कि यह हमारा सौभाग्य है कि हमें आईटीबीपी का स्वागत का मौका मिला। इस मौके पर डिप्टी कमांडेंट अजय शर्मा ने कहा कि एमएसएमई परिसार में 108 फिट का तिरंगा देख आईटीबीपी जवानों का जोश दुगुना हो गया।

राष्ट्रपी एकता औैर अमन का पैगाम

साइकिल रैली का नेतृत्व कर रहे आईटीबीपी के अस्सिटेंट कमांडेंट अदीश गुप्ता ने बताया कि साइकिल रैली लद्दाख घोघरा से 27 अगस्त को प्रारंभ हुई थी, अब तक करीब 1900 किमी की यात्रा पूरी की जा चुकी है। 3000 किमी से ज्यादा यात्रा कर साइकिल रैली गुजरात के केवडिय़ा में स्टेच्यू आफ यूनिटी पर जाकर समाप्त होगी। साइकिल रैली राष्ट्रीय एकता और अमन का पैगाम लेकर निकली है। रैली में शामिल जवान और अफसर 31 अक्टूबर को राष्ट्रीय एकता दिवस पर आयोजित परेड में शामिल होंगे।

बोर्ड कार्मिकों ने किया स्वागत

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड मंत्रालयिक कर्मचारी संघ ने रविवार को गगवाना के बालाजी मंदिर पर भारत तिब्बत सीमा पुलिस बल की साइकिल रैली का स्वागत किया। महामंत्री मोहन सिंह रावत की अगुवाई में यह स्वागत कार्यक्रम हुआ। बोर्ड कार्मिकों ने रैली में शामिल जवानों का माल्यार्पण किया।

यह भी पढ़े-मेगा चिकित्सा शिविर मेंं 435 मरीज हुए लाभान्वित