नगरपालिका सभागार में कार्यशाला का किया गया आयोजन

44

कार्यशाला में बाल विकास के कार्यक्रमों के बारे में चर्चा की गई

नागौर। नगरपालिका सभागार में गुरूवार को नगरपालिका अध्यक्ष तेजपाल मिर्धा की अध्यक्षता में बाल संरक्षण को लेकर कार्यशाला का आयोजन किया गया। नगरपालिका अध्यक्ष तेजपाल मिर्धा की अध्यक्षता में आयोजित कार्यशाला में पदाधिकारियों जनप्रतिनिधियों व विभिन्न संगठनों ने बाल अधिकार एवं संरक्षण को लेकर विचार व्यक्त किए।

नगरपालिका कुचेरा, जिला बाल संरक्षण इकाई नागौर, बाल कल्याण समिति एवं एक्शन एड यूनिसेफ के संयुक्त तत्वाधान में नगर पालिका सभागार में आयोजित हुई इस कार्यशाला में बाल संरक्षण, बाल श्रम, समाज में बढ़ती बाल अपराध की घटनाओं तथा सरकार की ओर से संचालित बाल विकास की विभिन्न योजनाओं, सरकार की बाल नीतियों पर कार्यशाला का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए एक्शन एड के रीजनल कोऑर्डिनेटर सुगन मेहता ने कार्यशाला के उद्देश्य एवं कार्यक्रम का संक्षिप्त परिचय दिया। इस अवसर पर सहायक निदेशक संजय बाल अधिकारिता नागौर द्वारा बाल अधिकार एवं बाल नीति, बाल अधिकारिता विभाग की ओर से संचालित बाल विकास के कार्यक्रमों के बारे में चर्चा की। बाल कल्याण समिति अध्यक्ष मनोज सोनी ने कार्यशाला को संबोधित करते हुए बाल अधिकार एवं कानूनी जानकारी के बारे में अवगत कराया। नगर पालिका अध्यक्ष तेजपाल मिर्धा ने कुचेरा को बाल श्रम मुक्त बनाने एवं प्रत्येक वार्ड में बाल श्रम उन्मूलन के लिए समिति का गठन कर कार्य करने की संयुक्त योजना पर चर्चा की।

कार्यक्रम में स्थानीय पुलिस थाने के बाल कल्याण अधिकारी महेश कुमार, बाल अधिकारिता विभाग से प्रोटेक्शन ऑफिसर डॉ. लक्ष्मण कुमार माली, राहुल बघेल, एकीकृत बाल विकास परियोजना से सरिता, मानव तस्करी यूनिट से बंशी लाल एवं विभिन्न बाल संरक्षण समितियों के सदस्यगण, पार्षद एवं बाल कल्याण कार्यक्रमों से जुड़े कार्मिकों ने भाग लिया। अधिशासी अधिकारी रजनीश चौधरी ने धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम का संचालन एक्शन एड के रीजनल कोऑर्डिनेटर सुगन मेहता ने किया। तथा बाल शोषण मुक्त नागौर के लिए आगामी रूपरेखा तैयार की गई।

यह भी पढ़ें-भामाशाह ने पत्नी की याद में बनवाया आईसीयू वार्ड, आमजन को मिल सकेगी चिकित्सा सुविधाएं