अजय सिंघल गेट-2020 में अव्वल

14

भरतपुर
भरतपुर शहर जवाहर नगर निवासी राजेश सिंघल के पुत्र अजय सिंघल ने गेट-2020 की परीक्षा पास कर भारत में प्रथम स्थान हासिल किया है। अजय सिंघल ने गेट-2020 में ऑल इण्डिया स्तर पर प्रथम स्थान प्राप्त कर भरतपुर राजस्थान का नाम रोशन किया है।

इनके पिता राजेश सिंघल, माता अल्का सिंघल एवं बहिन कृतिका सहित दादा स्व. मथुरा प्रसाद (मुच्छो दवा वाला) तथा गुरूजन को इस सफलता का श्रेय देते हैं।

अजय सिंघल को गेट-2020 में ऑल इण्डिया प्रथम स्थान प्राप्त

अजय सिंघल ने प्रवेशिका से कक्षा सातवीं तक आदर्श विद्या मंदिर उच्चैन से शिक्षा प्राप्त की जिसके बाद कक्षा आठवीं भरतपुर से, कक्षा 10वीं हिसार से तथा 12वीं आगरा से उत्तीर्ण की।

अजय सिंघल ने आई.आई.टी. प्रवेश परीक्षा 2014 उत्तीर्ण कर 2086वीं रैंक हांसिल कर वर्ष 2014 से 2018 तक आई.आई.टी. रूडकी से शिक्षा ग्रहण की। शिक्षा ग्रहण के समय कई स्वदेशी तथा विदेशी कम्पनियां व संस्थान से विदेशी शिक्षा एवं नौकरी के ऑफर आए।

एक अमेरिका की कम्पनी ने 50 लाख प्रतिवर्ष का ऑफर वर्ष 2016 में दिया, लेकिन अजय सिंघल ने ऑफर को त्याग दिया। जिसके बाद भी आईआईटी रूडकी में पढ़ाई जारी रखी।

यह भी पढ़ें- बिना किसी भेदभाव के क्षेत्र का होगा विकास: दीपचन्द खैरिया

अजय सिंघल एवं पिता राजेश सिंघल का लक्ष्य था कि भारत में ही सरकारी नौकरी करना और गेट परीक्षा उत्तीर्ण करना सहित आई.ई.एस. या आई.ए.एस. था।

अजय सिंघल ने गेट-2019 में सफलता हांसिल करली थी, लेकिन अच्छी रैंक नहीं होने के कारण दुबारा गेट परीक्षा देने का मन बनाया और गेट-2020 में सफलता हांसिल कर ऑल इण्डिया स्तर पर प्रथम रैंक हांसिल की।

गेट-2020 में अजय सिंघल की प्रथम रैंक बनने पर पिता राजेश सिंघल, माता अल्का सिंघल, बहिन कृतिका एवं नगर निगम के उप महापौर गिरीश चौधरी,सहित शिक्षाविद रिखवचंद मित्तल, रिटायर्ड जिला आयुर्वेद अधिकारी ओमप्रकाश गुप्ता, राजस्थान कैमिस्ट एसोसिएशन जयपुर प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य शिवदत्त शर्मा, मोहन दवा वाला, प्रशान्त उपमन, अनिल सिंघल, पुष्पेन्द्र गुप्ता, विष्णु मित्तल,आदि ने पुष्प माला व पुष्प गुलदस्ता व स्मृति चिंह भेंट किये और मिठाई खिलाकर आमजन को मिठाई वितरण की।

पुत्र अजय सिंघल बचपन से ही शिक्षा में अग्रणी रहा, जिसने प्रवेशिका से लेकर 12वीं तक स्कूल स्तर तक प्रथम स्थान और गेट-2020 में ऑल इंडिया स्तर पर प्रथम रैंक हांसिल की।

पुत्र का लक्ष्य आई.ई.एस. बनना था जो अब पूरा होगा। पुत्र ने गैट-2020 में ऑल इंडिया स्तर पर प्रथम रैंक हांसिल कर भरतपुर राजस्थान का नाम रोशन किया है।