अलवर बनेगा कन्यादान में रोल मॉडल, गरीब बेटी को तत्काल मिलेगा शादी के लिए पैसा

16

बेटी की शादी में आगे आए जागरुक लोग, सामाजिक न्याय व अधिकारिता विभाग करेगा पहल

अलवर. नेक कमाई समूह की ओर से चलाए जा रहे कार्यक्रम कन्यादान में जागरूक लोग आगे आ रहे हैं। बुधवार को एक जरूरत मंद बेटी की शादी में कन्यादान करने समाज के जागरूक लोग आगे आए और उन्होंने कन्यादान किया। अलवर के कन्यादान कार्यक्रम को समाज कल्याण विभाग रोल मॉडल के रूप में विकसित करेगा जिसमें गरीब बेटी की शादी के लिए परेशानी नहीं होगी।

अलवर शहर में हुए इस कन्यादान कार्यक्रम में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के उप निदेशक रविकांत मेघवाल ने कहा कि अलवर शहर में नेक कमाई का बेटियों के विवाह में कन्यादान करने के कार्यक्रम पूरे प्रदेश में अनोखा है इसे समाज के लोगों के आगे आने के रोल मॉडल के रूप में प्रचारित किया जाएगा। सामाजिक न्याय व अधिकारिता मंत्री टीकाराम जूली इसे प्रदेश में रोल मॉडल के रूप में विकसित करने की कार्य योजना बना रहे हैं। इसमें गरीब लडक़ी की शादी के लिए 24 घंटे के भीतर कन्यादान राशि स्वीकृत की जाएगी। इसकी जानकारी मुख्यमंत्री को भी दी है।

कार्यक्रम में नेक कमाई के साथ मानवाधिकार सुरक्षा संगठन की ओर से बेटी को जरूरत का सामान दिया गया। इसमें 15 हजार नगद, साडिय़ां, लहंगा, ज्वैलरी, राशन , फर्नीच, शॉल, जर्सी, कम्बल, रिफाइंड, सिलाई मशीन, प्रेस सहित पूरा घरेलू सामान था। कन्यादान करने वालों में रोटरी क्लब सरिस्का से गोविन्द गर्ग, संजय अग्रवाल, अग्रवाल महासभा के कोषाध्यक्ष अजय आनंद गोयल, युवा उद्योगपति आशीष अग्रवाल, मानवाधिकार सुरक्षा संगठन के अध्यक्ष गोपाल जायसवाल, सचिव हेमंत भारद्वाज, रोटरी क्लब अलवर से समाजसेवी जितेन्द्र खुराना और अरविन्द खंडेलवाल भोलू भैया थे।

यह भी पढ़ें-लाडो को घोड़ी पर बैठाकर निकाली बिंदोरी