क्या आप जानते हैं मसूर की दाल से किया जा सकता है फेशियल

63
मसूर की दाल
मसूर की दाल

ब्यूटी पार्लर जाए बिना दमक उठेगा चेहरा

घर में अक्सर मसूर की दाल बनती है। चटकारा लेकर जिस दाल को बढ़े चाब से खाया जाता है, उसे दाल को यदि चेहरे पर लगाने में इस्तेमाल किया जाए तो चेहरा दमक उठेगा। उस पर निखार आएगा। इससे आपको ब्यूटी पार्लर जाने की झंझट से छुटकारा मिलेगा। अगर आप चेहरे की त्वचा पर होने वाली फाइन लाइंस और टैनिंग जैसी समस्याओ से परेशान रहती हैं। तो मसूर की दाल को चेहरे पर लगाएं। इसे लगाने से ना केवल चेहरे की टैनिंग कम होगी बल्कि निखार भी मिलेगा। अगर आप पार्लर जाने का समय बचाना चाहती हैं तो मसूर की दाल को इस तरह से इस्तेमाल में लाएं।

ऐसे इस्तेमाल करें विधि

मसूर की दाल
मसूर की दाल

अगर चेहरे की त्वचा पर ड्राईनेस और टैनिंग दिखती है। तो इसके लिए मसूर की दाल को पाउडर बनाकर रख लें। इस पाउडर को कच्चे दूध में मिलाकर चेहरे पर लगाएं और आधे घंटे के लिए छोड़ दें। फिर सादे पानी से चेहरा धो लें। अगर आप इस तरह से मसूर की दाल को लगाएंगे तो जल्दी त्वचा की ड्राईनेस और डलनेस खत्म हो जाएगी।वहीं त्वचा को रिलैक्स करने और निखार लाने के लिए मसूर की दाल में हल्दी और गुलाबजल मिलाकर चेहरे पर लगाएं। फिर करीब 20 मिनट बाद फेस को साफ कर लें। इससे चेहरे पर निखार भी आएगा और स्किन को मसूर की दाल मॉइश्चराइज भी करेगी।

मसूर की दाल से बनाएं स्क्रब

मसूर की दाल
मसूर की दाल

चेहरे के डेड स्किन को साफ करना बेहद जरूरी है। त्वचा को एक्सफोलिएट करने के लिए मसूर की दाल को ओट्स में मिलाकर गुलाबजल के साथ पैक बनाएं। इस नेचुरल स्क्रब को हल्के हाथों से लेकर चेहरे पर मसाज करें और फिर चेहरे को ठंडे पानी से धो दें। जिससे चेहरे की डेड स्किन रिमूव होगी और चेहरे पर निखार मिलेगा।

चेहरे की लटकती त्वचा में आएगा कसाव

मसूर की दाल
मसूर की दाल

कई बार मुंहासे और एक्ने की वजह से पोर्स खुल जाते हैं और देखने में भद्दे लगते हैं। इन खुले पोर्स के साथ ही समय से पहले त्वचा ढीली होने लगती है। अगर आप ओपन पोर्स और त्वचा के ढीलेपन से परेशान रहती हैं तो मसूर की दाल के पाउडर को शहद में मिलाकर पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को करीब 20 मिनट तक चेहरे और गर्दन पर लगाकर छोड़ दें। फिर पानी से चेहरा साफ कर लें। सप्ताह में दो बार इस फेस पैक को लगाने से कुछ ही दिनों में त्वचा में कसाव दिखने लगेगा।

यह भी पढ़ें : हे राम ! मंत्री के पीए ने खड़े किए अहिल्या के चरित्र पर सवाल