उदयपुर: कन्हैयालाल की अंतिम यात्रा में उमड़ा जन सैलाब, हर तरफ उठी हत्यारों को फांसी देने की मांग

175

उदयपुर। उदयपुर जिले में बेरहमी से कत्ल किये गय कन्हैयालाल का अंतिम संस्कार किया गया। उनके अंतिम संस्कार में पूरे शहर से हजारों की संख्या में लोग उमड़ पड़े। इस दौरान सभी बाजार और दुकान बंद रहे। शहर के सभी दुकानदार और व्यापारियों ने कन्हैयालाल की हत्या पर संवेदना व्यक्त करने के लिए अपने प्रतिष्ठान और दुकानें बंद रखीं। शव यात्रा के साथ साथ हजारों लोगों की भीड़ चल रही थी। इस दौरान लोगों में कन्हैयालाल की हत्यारोपियों की फांसी की मांग को लेकर भी नारेबाजी होती रही।

बता दें कि आरोपी मोहम्मद रियाज और गोस मोहम्मद ने एक वीडियो जारी कर हत्या की जिम्मेदारी लेते हुए नुपुर शर्मा के समर्थन वाली पोस्ट डालने का आरोप लगाते हुए कन्हैयालाल की हत्या कर दी थी, जिसके बाद उन्होंने एक वीडियो जारी कर हत्या की जिम्मेदारी भी ली थी। लोगों का कहना है कि हत्यारों को फांसी होनी चाहिए, ताकि ऐसा कृत्य दोबारा न हो। मालदास गली क्षेत्र में दुकानों को बंद किया हुआ है और लगातार स्थानीय लोग इस घटना के विरोध में अपना रोष प्रकट कर रहे हैं।

घटना की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया गया है, जिसमें एसओजी एडीजी अशोक राठौड़, एटीएस आईजी प्रफुल्ल कुमार व एक एसपी और एडिशनल एसपी शामिल होंगे। इस मामले पर सरकार ने कड़ा अपनाते हुए इंटरनेट सेवाएं पूरी तरह बंद करने के आदेश जारी कर दिए गए हैं। अगले 24 घंटे इंटरनेट बंद रहेंगे। युवक बेरहमी से की गई हत्या के विरोध में स्थानीय लोगों ने घटना के बाद मालदास गली क्षेत्र में दुकानों को बंद कर दिया है। सूत्रों के मुताबिक दोनों उदयपुर के खांजीपीर इलाके के रहते थे।