प्रशासन गांव के संग अभियान… तीन साल बाद हुआ रिकॉर्ड में संशोधन, रामसहाय को बनाया रामस्वरूप

9

भरतपुर। प्रशासन गांवो के संग अभियान के तहत गांव भैसीना में शिविर एसडीएम मुनि देव यादव के नेतृत्व में लगाया गया। शिविर में पेंशन वितरण, विभाजन प्रकरणों का निस्तारण किया गया। शिविर में तीन साल बाद राम सहाय का नाम शुद्धिकरण कर रामस्वरूप किया गया। एसडीएम यादव ने बताया राजस्थान सरकार ने राज्य के दूर-दराज के गांवों में सरकारी सेवाओं तक स्थानीय पहुंच प्रदान करने के लिए 17 दिसंबर, 2021 तक ‘प्रशासन शहर/गांव के संग नाम से एक मेगा अभियान शुरू किया है।

स्थानीय प्रशासन के अधिकारी हर ग्राम पंचायत के ग्रामीण इलाकों में पहुंचकर आवेदकों को मौके पर ही समाधान करा रहे है। आवेदनों का मौके पर निस्तारण अभियान में किया जा रहा है। जिससे ग्रामीणों को भटकना नही पड़े। इस दिन शिविर में पेंशन, विभाजन सहित नामो का शुद्धिकरण किया गया। जिससे लोग सरकारी सहायता से वंचित रह रहे थे। इस मौके पर सरपंच राहुल तिवारी, पूर्व उप प्रधान महेश मीना सहित अनेक अधिकारी व लोग मौजूद रहे।

कामां : शिविर में मां-बेटे के बीच चले रहे 34 बीघा जमीन के विवाद को राजीनामे से निपटाया

कामां। शुक्रवार को नवसृजित ग्राम पंचायत बामनी में प्रशासन गांवों के संग शिविर आयोजित हुआ। जिसमें 1 साल से चले आ रहे मां-बेटे के बीच दीवानी मुकदमा को आपसी राजीनामा करा कर मुकदमे को वापस कराया। शिविर प्रभारी एसडीएम दिनेश शर्मा ने बताया कि बामनी निवासी जफरु मेव बनाम बस्सी मेव जो दोनों मां बेटे हैं। जिनके बीच 34 बीघा जमीन के बंटवारे को लेकर आपसी विवाद चल रहा था।

जिसको शुक्रवार को प्रशासन गांवों के संग अभियान में मां बेटे के बीच राजीनामा करा कर न्यायालय में चल रहे विवाद को समाप्त कराया नई दूसरी ओर नवसृजित ग्राम पंचायत बामनी भवन के लिए दान में दी गई 11.4 ईयर भूमि पर अवैध कब्जा को खाली कराने के लिए ग्रामीणों सहित सरपंच ने शिविर में गुहार लगाई। जिस पर उपखंड अधिकारी ने अतिक्रमणकारी इलियास, अकरम, यूनिस, तुस्सी, उमर, हारून, फकरु, जमशेद से बात कर भूमि से अतिक्रमण हटाने की हिदायत देते हुए कहा कि अगर स्वयं अतिक्रमण नहीं हटाया तो प्रशासन हटवाएगा।

कुएं में गिरने से घायल हुए किसान को दी 50 हजार की सहायता

बयाना। प्रशासन गांवों के संग अभियान के तहत शुक्रवार को ग्राम पंचायत महमदपुरा में तहसीलदार गिर्राजप्रसाद बंसल की अध्यक्षता में कैंप आयोजित किया गया। कैंप में कृषि उपज मंडी समिति की ओर से राजीव गांधी कृषक साथी योजना के तहत नगला अन्डुआ निवासी दिनेश चंद्र पुत्र सोहन सिंह को 50 हजार की आर्थिक सहायता का चेक प्रदान किया गया।

मंडी समिति प्रभारी द्वारिका प्रसाद तिवारी ने बताया कि 9 मई 2020 को दिनेश चंद अपने खेत में काम कर रहा था। इसी दौरान इंजन का पट्टा टूट गया। इससे दिनेश कुएं में गिर गया। जिससे उसकी रीढ़ की हड्डी टूट गई थी। इसी तरह पिछले कई माह से सरकारी दफ्तरों के चक्कर काट रहे दिव्यांग मुकेश पुत्र घंसी को शिविर में ही दिव्यांग पेंशन प्रमाण पत्र जारी किया गया।

यह भी पढ़ें-लैब कार्मिक से मारपीट का विरोध, दूसरे दिन भी काली पट्टी बांध कर रोष जताया