हजारों की तादाद में श्रद्धालुओं ने लगाई मां शीतला के धोक

8
Sheetlashtami.jpg
Sheetlashtami.jpg

झुंझुनूं
उदयपुरवाटी कस्बे के निकटवर्ती ग्राम बागोरा में सोमवार को शीतलाष्टमी के पावन पर्व पर मेला भरा। पूरे भारत में जहां लोगों में कोरोना वायरस का खौफ छाया हुआ है वह या बिलकुल भी दिखाई नहीं दिया। श्रद्धालुओं ने हजारों की तादाद में पहुंचकर शीतला माता के धोक लगाकर मन्नतें मांगी।

यह भी पढ़ें-कुल्हरियों का बास में हुआ अन्न जागरुकता कार्यक्रम

ठंडे पकवान का भोग लगाया। श्रद्धालुओं ने माता के भोग लगाने के बाद ठंडा भोजन किया। मेले पर कई सामाजिक संगठनों व भामाशाह ने जगह-जगह जमकर लोगों की सेवा की। स्वर्गीय भामाशाह बैजनाथ शाह के परिवार ने प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी शीतला माता मंदिर के पास लोगों की जल सेवा की।

वहीं अखिल भारतीय राहुल गांधी यूथ ब्रिगेड के जिला अध्यक्ष अजीत सैनी गुड़ा के नेतृत्व में श्रद्धालुओं को छाछ पिलाई गई। मेले में मेडिकल सुविधा भी उपलब्ध करवाई गई। मेले में पुलिस प्रशासन की भी व्यवस्था चाक-चौबंद रही।

उदयपुरवाटी पुलिस थाने के सीआई भगवान सहाय मीणा दलबल सहित मेले की व्यवस्थाओं का जायजा ले रहे थे। असामाजिक तत्वों पर भी पुलिस की पैनी नजर रही। बाहर से आए श्रद्धालुओं ने मेले में जमकर खरीदारी की।

मां शीतला जी को लगाया ठंडे भोजन का भोग


सादुलपुर। राजगढ़ शहर के मैन शीतला माता मन्दिर के अलावा महाराणा प्रताप चौक व पिलानी रोड़ स्थित गौरीशंकर मन्दिर परिसर में बने शीतला माता मन्दिर में शीतलाष्टमी को लेकर सोमवार को अनेको महिला-पुरूष सहित बच्चों ने मां शीतला को ठंडे भोजन का भोग लगाकर व पानी के डोल डलवाऐ तथा पूजा अर्चना कर सुख-समृद्धि की कामना की।

शीतलाष्टमी से पूर्व घरों मे लोगो ने ठंडा भोजन बनाकर परम्पराओ का निर्वहन किया। शीतलाष्टमी(बास्योडा) के चलते मंदिर में लोगों का आना जाना रात के दो बजे से ही शुरू हो गया था, जो सुबह तक जारी रहा। आपको बता दें कि शीतला अष्टमी को लेकर मन्दिर परिसर में जागरण का भी आयोजन हुआ, जिसमें गायक कलाकारों द्वारा एक से बढ़कर एक भजनों की प्रस्तुतियां देकर शीतला माता को रिझाया गया।