घर में बांसुरी रखने से दूर होता है वास्तुदोष

150
वास्तुदोष
वास्तुदोष

बनी रहती है भगवान श्रीकृष्ण की कृपा दृष्टि

यदि आपने अभी तक आपके घर में बांसुरी नहीं है और आप वास्तुदोष से परेशान हैं तो बिना देर किए एक बांसरी घर में लगाएं। इससे वास्तु दोष तो दूर होगा ही भगवान श्रीकृष्ण की कृपा दृष्टि भी आप पर बनी रहेगी। हिंदू पंचांग के अनुसार प्रत्येक वर्ष भाद्रपद माह के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि के दिन कृष्ण जन्माष्टमी मनाई जाती है। कृष्ण जन्माष्टमी का पर्व इस साल 18 अगस्त को है। ये पर्व पूरे देश में बड़े ही धूमधाम से मनाया जाता है। जन्माष्टमी के दिन लोग व्रत रखते हैं और भगवान श्री कृष्ण की पूजा करते हैं। इस दिन भगवान श्रीकृष्ण के भक्त कान्हा की भक्ति में लीन रहते हैं। जन्माष्टमी के दिन विधि-विधान से पूजा के अलावा लोग लड्डू गोपाल की कृपा पाने के लिए कई उपाय भी करते हैं। मान्यता है कि भगवान श्री कृष्ण को बांसुरी सबसे प्रिय है। वास्तु शास्त्र में भी बांसुरी को बेहद शुभ माना गया है। ऐसे में बांसुरी से जुड़े कुछ उपाय करने से आप अपने जीवन को खुशहाल बना सकते हैं।

वास्तु दोष होगा दूर

वास्तुदोष
वास्तुदोष

भगवान श्री कृष्ण को बांसुरी बेहद प्रिय थी। वे हर पल बांसुरी को अपने साथ रखते थे। ऐसे में यदि आपके घर में वास्तु दोष है और इस कारण आप परेशान हैं तो जन्माष्टमी के दिन आप घर में एक बांसुरी लाएं और रात्रि के समय पूजा में कृष्ण जी को अर्पित कर दें और दूसरे दिन उस बांसुरी को अपने घर में पूर्व की दीवार पर तिरछी लगा दें। वास्तु के अनुसार, ऐसा करने से आपके घर का वास्तु दोष धीरे-धीरे समाप्त हो जाएगा।

व्यापार में लाभ के लिए

वास्तुदोष
वास्तुदोष

वास्तु शास्त्र के अनुसार, जिस घर में लकड़ी की बांसुरी होती है, उस घर पर सदैव कान्हा की कृपा बनी रहेगी। बांसुरी शांति व समृद्धि की प्रतीक मानी गई है। ऐसे में घर के मुख्य द्वार पर बांस की सुंदर सी बांसुरी लटकाना समृद्धि को आमंत्रित करेगा। इसके अलावा यदि आपका व्यापार ठीक नहीं चल रहा हो तो अपने कार्यालय या दुकान के मुख्य द्वार के ऊपर दो बांसुरी लगाएं।

नकारात्मक ऊर्जा होगी दूर

वास्तुदोष
वास्तुदोष

बांसुरी सम्मोहन, खुशी और आकर्षण का प्रतीक मानी गई है। हर कोई इसकी मधुर धुन से आकर्षित हो जाता है। बांसुरी बजाने पर उससे उत्पन्न होने वाली ध्वनि से नकारात्मक ऊर्जा दूर होती है एवं वातावरण में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है। ऐसे में यदि आपको लगता है कि घर में नकारात्मक शक्तियों का वास है तो चांदी की एक बांसुरी भगवान श्री कृष्ण को अर्पण करें। यदि आप चांदी की बांसुरी नहीं खरीद सकते तो आप एक बांस की बांसुरी भी ले सकते हैं। श्री कृष्ण को बांसुरी अर्पित करने के बाद वह बांसुरी अपने घर के ड्राइंग रूम में लगा दें।

दांपत्य जीवन में प्रेम के लिए

यदि पति-पत्नी के बीच अनबन रहती है तो जन्माष्टमी के दिन एक बांसुरी लाएं और उस बांसुरी को भगवान श्री कृष्ण को अर्पित करने के बाद वह बांसुरी अपने बेड के पास रखें। ऐसा करने से आपका वैवाहिक जीवन सुखमय हो जाएगा।

यह भी पढ़े :जल्द पर्दे पर उतरेगी ‘कृष 4’